सीतापुर
 
सीतापुर में गैंगस्टर मुजीब अहमद की 3.30 करोड़ की सम्पत्ति जब्त की गई। डीएम के आदेश पर पुलिस और राजस्व विभाग की टीम ने यह कार्रवाई की है। आरोपी की अब तक करीब सौ करोड़ रुपये की सम्पत्ति की कुर्की की जा चुकी है। सदर तहसीलदार, सीओ सिटी पीयूष कुमार सिंह, शहर कोतवाली प्रभारी तेज प्रताप सिंह दलबल के साथ शनिवार की दोपहर सरांय भाट गांव पहुंचे। ढोल नगाड़े के साथ शहर कोतवाल ने मुनादी पिटवाई। कहा सुनो सुनो माफिया मुजीब अहमद की यह सम्पत्ति जब्त की जा रही है।

कौन हैं मुनीब

सीओ सिटी ने बताया कि आरोपी संगठित गिरोह बनाकर अपने व अपने गैंग के सदस्यों के माध्यम से आर्थिक एवं भौतिक लाभ के लिए अपराध करने में अभ्यस्त हैं। आरोपी गैंग का लीडर है एवं अन्य आरोपी इसके सक्रिय सदस्य हैं। जिसके विरुद्ध सरकारी जमीनों पर कब्जा, नशे का कारोबार, दुकानों से अवैध वसूली करना, अवैध रूप से वाहन स्टैण्ड बनाकर वसूली करना एवं लोगों को डरा धमकाकर उद्यापन जैसे अपराध के अभियोग पंजीकृत हैं। आरोपी की आय का कोई ज्ञात स्रोत नहीं था। इसके पास इतनी पैतृक संपत्ति नहीं है कि जिसकी आमदनी से इतने अल्प समय में इतनी मूल्यवान जमीनें खरीदी जा सकें। अपराध से अर्जित संपत्ति का उपयोग एवं उपभोग मुजीब अहमद एवं उसके परिवारीजन द्वारा किया जा रहा था। विवेचना के दौरान गैंगस्टर एक्ट के अंतर्गत विवेचक द्वारा जिलाधिकारी कार्यालय को साक्ष्य संकलित करते हुए एक विस्तृत रिपोर्ट प्रेषित की थी जिस पर डीएम ने मुजीब द्वारा अपराध से अर्जित की गई संपत्तियों को जब्त करने का आदेश जारी किया। इसी के बाद राजस्व और पुलिस विभाग की टीम ने कुर्की की कार्रवाई की।