रीवा
इस साल 15 अगस्त को आजादी के 75 साल पूरे हो रहे हैं। इसे ऐतिहासिक बनाने के उपलक्ष में देश भर में पिछले एक साल से ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ मनाया जा रहा है। वहीं इस बार 15 अगस्त के लिए सरकार ने ‘हर घर तिरंगा’ अभियान शुरू किया है जो अपने आप में बेहद खास पहल है। आजादी का अमृत महोत्सव के तहत सभी प्रयासों की देखरेख करने वाले गृह मंत्री ने राष्ट्रीय ध्वज को और सम्मानित करने के लिए ‘हर घर तिरंगा’ के कार्यक्रम को मंजूरी दी है। इस संबंध में गृह मंत्री की अध्यक्षता में ‘हर घर तिरंगा’ अभियान को सफल बनाने के लिए बीते दिनों सभी राज्यपालों, उप-राज्यपालों, मुख्यमंत्रियों और केंद्र शासित प्रदेशों के प्रशासकों के साथ अहम बैठक भी की गई थी।

पीएम मोदी ने इसके संबंध में कहा है…

”यही समय है, सही समय है, भारत का अनमोल समय है।
असंख्य भुजाओं की शक्ति है, हर तरफ देश की भक्ति है।
तुम उठो तिरंगा लहरा दो, भारत के भाग्य को फहरा दो।”

इन्हीं शब्दों के साथ पीएम मोदी ने लोगों से ‘हर घर तिरंगा’ अभियान को मजबूती देने का आग्रह किया है। इसके साथ ही पीएम मोदी ने उस गुजरे वक्त को भी याद किया जब आजाद भारत के लिए झंडे का सपना देखने वालों द्वारा इसके लिए साहस और प्रयास किया गया था। उन्होंने अपने ट्विटर अकाउंट के जरिए इतिहास की कुछ ऐसी दिलचस्प बातें ट्वीट के रूप में साझा की हैं जिनमें हमारे तिरंगे से जुड़ी समिति का विवरण शामिल हैं और पंडित नेहरू द्वारा फहराया गए पहले तिरंगे से जुड़ी जानकारी निहित है। पीएम मोदी ने बताया है कि 22 जुलाई की हमारे इतिहास में विशेष प्रासंगिकता है क्योंकि 1947 में आज ही के दिन हमारे राष्ट्रीय ध्वज को अपनाया गया था।

PM मोदी की अपील, ‘अपने घर पर फहराएं राष्ट्रीय ध्वज, हर घर तिरंगा अभियान को बनाएं मजबूत’

पीएम मोदी ने शुक्रवार को ट्वीट में कहा है कि आज 22 जुलाई है और इस दिन का हमारे इतिहास में खास महत्व है। इसी दिन 1947 को हमने राष्ट्रीय ध्वज के रूप में तिरंगे को अंगीकार किया। उन्होंने आगे लिखा है, ‘मैं तिरंगे से जुड़ी कुछ रोचक जानकारियां आपके सामने ला रहा हूं। खासकर उस कमेटी के बारे में जो राष्ट्रीय ध्वज के निर्माण से जुड़ी रही। इसी तिरंगे को पंडित नेहरू ने पहली बार फहराया।’

केवल इतना ही नहीं पीएम मोदी ने अपने ट्वीट में राष्ट्रीय ध्वज की तस्वीर और इससे जुड़ी विशेष जानकारियों के साथ यह भी कहा है कि ‘इस साल हम आजादी का अमृत महोत्सव मना रहे हैं। इसलिए आइए हर घर तिरंगा अभियान को मजबूती प्रदान करें। तो आइए ‘हर घर तिरंगा’ आंदोलन को मजबूत करें। 13 अगस्त से 15 अगस्त के बीच अपने घरों में तिरंगा फहराएं या प्रदर्शित करें। यह मुहिम राष्ट्रध्वज के साथ अपने जुड़ाव को गहरा करेगी।’

पीएम मोदी ने अपने एक अन्य ट्वीट में यह भी कहा है कि आज हमें उन लोगों को याद करने की जरूरत है जिन्होंने देश की आजादी के लिए एक राष्ट्रीय ध्वज का सपना देखा। हम उनकी सोच एवं सपने के अनुसार भारत का निर्माण करने के अपने इरादे को दोहराते हैं।

क्या है ‘हर घर तिरंगा’ अभियान ?

आजादी का अमृत महोत्सव के तत्वावधान में ”हर घर तिरंगा” अभियान लोगों को तिरंगा लाने के लिए प्रोत्साहित करने वाला एक अभियान है। भारत की स्वतंत्रता के 75 वें वर्ष को चिह्नित करने के लिए यह अभियान शुरू किया गया है। राष्ट्रध्वज से हमारा रिश्ता हमेशा से अटूट रहा है। व्यक्तिगत स्तर से लेकर औपचारिक और संस्थागत स्तर तक स्वतंत्रता के 75वें वर्ष को चिह्नित करने की कड़ी में एक राष्ट्र के रूप में सामूहिक रूप से राष्ट्र ध्वज को घर लाना तिरंगे से न केवल व्यक्तिगत संबंध का एक कार्य का प्रतीक बन जाता है, बल्कि हमारी प्रतिबद्धता का भी प्रतीक बनता है।

क्या है इस अभियान का उद्देश्य ?

उल्लेखनीय है कि राष्ट्र ध्वज के साथ हमारा संबंध हमेशा व्यक्तिगत से अधिक औपचारिक और संस्थागत रहा है। देश की आजादी के 75 वें वर्ष में एक राष्ट्र के रूप में ध्वज को सामूहिक रूप से घर लाना इस प्रकार न केवल तिरंगे से व्यक्तिगत संबंध का प्रतीक बन जाता है, बल्कि राष्ट्र-निर्माण के प्रति हमारी प्रतिबद्धता का प्रतीक भी बन जाता है। इस पहल के पीछे का विचार राष्ट्र भावना का आह्वान करना है। लोगों के दिलों में देशभक्ति की भावना जगाएं और अपने राष्ट्रीय ध्वज के बारे में जागरूकता को बढ़ावा दें।

क्या हैं राष्ट्रीय ध्वज से जुड़े नियम ?

लेकिन इससे पहले देश में राष्ट्रीय ध्वज को फहराने से जुड़े कुछ नियम जरूर जान लें। इनके बारे में जानकारी होना भी जरूरी है। यदि इन नियमों के अनुसार तिरंगा नहीं फहराया जाता है तो आप पर कड़ी कार्रवाई भी हो सकती है। इसके लिए भारत सरकार द्वारा फ्लैग कोड 2002 तैयार किया गया है। यह राष्ट्रीय ध्वज के उपयोग, प्रदर्शनी और फहराने से जुड़ी गाइडलाइन बताता है।

बता दें, लगभग सभी राज्यों में भारत सरकार द्वारा ”हर घर तिरंगा” अभियान चलाया जा रहा है। उत्तर प्रदेश में स्वतंत्रता सप्ताह (11 से 17 अगस्त) के हिस्से के रूप में 13 से 15 अगस्त तक हर घर तिरंगा कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए, 4.5 करोड़ झंडे फहराए जाएंगे, जिसके लिए स्वयं सहायता समूहों, गैर सरकारी संगठनों का सहयोग, MSME-खादी और ग्रामोद्योग और निजी सिलाई की मांग की गई है।

राज्य के लगभग 76,547 स्वयं सहायता समूहों को 1,50,16,077 झंडे बनाने का लक्ष्य दिया गया है, जबकि लगभग 10,224 गैर सरकारी संगठनों को 31,82,134 झंडे बनाने का लक्ष्य दिया गया है। राज्य सरकार के एक प्रवक्ता ने यहां बताया कि इसके अलावा राज्य में करीब 10,112 निजी सिलाई केंद्रों द्वारा 81,66,735 झंडों का निर्माण किया जाएगा। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश के विभिन्न जिलों में लगभग 97,000 स्थानीय विनिर्माण केंद्रों द्वारा 2.64 करोड़ झंडे बनाने का लक्ष्य भी रखा गया है।

प्रवक्ता के अनुसार प्रदेश में सबसे ज्यादा झंडों का निर्माण बाराबंकी के करीब 12,206 स्वयं सहायता समूहों द्वारा किया जाएगा। वहीं जहां तक एनजीओ का सवाल है तो सबसे ज्यादा योगदान मेरठ के एनजीओ द्वारा किया जाएगा।

इसके अलावा, राज्य में कई निजी सिलाई केंद्रों के साथ, एमएसएमई विभाग भी लगभग 2 करोड़ झंडे तैयार करने के लिए हरकत में आया है। इसके लिए GEM पोर्टल पर टेंडर भी निकाला गया है। उन्होंने कहा कि सरकार के माध्यम से सभी लोगों को झंडे उपलब्ध कराने के लिए दुकानों, ग्राम पंचायत कार्यालयों, जन सेवा केंद्रों, आंगनबाड़ी केंद्रों, पेट्रोल पंपों आदि पर झंडे उपलब्ध कराए जाएंगे और लोगों को वितरित किए जाएंगे।

बताना चाहेंगे कि इस अभियान को सफल बनाने के लिए नोडल अधिकारियों की नियुक्ति भी की गई है। इसके लिए केंद्र सरकार ने तीन तरह के झंडों के उत्पादन की व्यवस्था की है। ये डाकघरों में उपलब्ध होंगे और लोग तिरंगे को ऑनलाइन भी खरीद सकेंगे।

वर्चुअली कैसे जुड़ें हर घर तिरंगा अभियान से ?

राष्ट्र निर्माण की इस पहल के पीछे का विचार लोगों के दिलों में देशभक्ति की भावना को जगाना और उसे बढ़ावा देना है। जनमानस को भारतीय राष्ट्रीय ध्वज के बारे में जागरूक करने के इस महत्वपूर्ण अवसर को चिह्नित करने के लिए, आप इस पहल से वर्चुअली जुड़ने के लिए https://harghartirang.com/ पर वर्चुअल रूप से भी ‘झंडा फहरा सकते हैं’। आपको इस साइट पर ‘फ्लैग के साथ सेल्फी’ पोस्ट करनी होगी।

हर घर तिरंगा अभियान में अपने योगदान को चिह्नित करने के लिए आप चार सिम्पल स्टेप फॉलो कर सकते हैं। आपको इसके लिए उपरोक्त दिए गए वेबसाइट लिंक पर विजिट करना होगा। यहां चार स्टेप दिए गए हैं, जिनमें पिन ए फ्लैग, सोशल लॉग इन/फिल इन योर डिटेल, अलाउ योर लोकेशन एक्सेस और पिन ए फ्लैग इन योर लोकेशन को फॉलो करना होगा।