नई दिल्ली
 भारत ने वेस्टइंडीज को पहले रोमांचक वनडे में 3 रनों से मात देकर तीन मैच की सीरीज में 1-0 की बढ़त बना ली है। देर रात चले इस मुकाबले में मेजबान टीम को आखिरी ओवर में 15 रनों की दरकार थी। सिराज ने जहां गेंदबाजी में कमाल दिखाया, वहीं संजू सैमसन विकेट के पीछे महफिल लूट ले गए। बता दें, टीम इंडिया ने पहले बल्लेबाजी करते हुए निर्धारित 50 ओवर में 7 विकेट के नुकसान पर 308 रन बनाए थे, इस स्कोर के सामने मेजबान टीम इतने ही ओवर में 6 विकेट के नुकसान पर 305 रन बना पाई।
 
सैमसन ने सिराज को हीरो से खलनायक बनने से बचाया

इस रोमांचक मुकाबले में जब सिराज 15 रन डिफेंड करने उतरे तो पहली दो गेंदों पर उन्होंने 1 ही रन दिया था। इसके बाद तीसरी गेंद पर शेफर्ड को भाग्य के साथ के साथ वेस्टइंडीज को चौका मिला। चौथी गेंद पर सिराज ने अच्छी फेंकी और दो ही रन खर्च किए। पहली चार गेंदों पर सिराज ने 7 ही रन दिए थे ऐसे में मैच टीम इंडिया की झोली में जाते हुए दिख रहा था, मगर पांचवी गेंद उन्होंने लेग साइड में इतना दूर फेंकी की हर किसी की सांसे बढ़ गई।

दरअसल, शेफर्ड इस गेंद पर लेग साइड में हटकर शॉट खेलना चाहते थे, सिराज ने उनका पीछा किया और गेंद लेग साइड में फेंक दी। सिराज की यह गेंद वाइड हुई और विकेट के पीछे खड़े संजू सैमसन ने फूल स्ट्रेच डाइव लगाते हुए गेंद को रोका। अगर वहां संजू सैमसन फुर्ती नहीं दिखाते तो वेस्टइंडीज की झोली में 5 रन के साथ मैच भी चला जाता।
 
हालांकि इसके बाद सिराज ने ऐसी कोई गलती नहीं कि 5वीं गेंद पर उन्होंने दो रन खर्च किए वहीं आखिरी गेंद पर विंडीज 1 ही रन बनाने में कामयाब रही। सिराज ने अपने आखिरी ओवर से 11 रन लुटाए। सैमसन की वो डाइव मैच के लिए निर्णायक साबित हुई।