मुंबई
 
महाराष्ट्र में सियासी ड्रामा खत्म होते ही मुख्य भूमिका से भी पर्दा उठ गया है। मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे ने देवेंद्र फडणवीस को उनकी सरकार का 'असली कलाकार' बताया है। सोमवार को उन्होंने शिवसेना में बगावत की असली वजह भी बताई। बहरहाल, राज्य में विभागों का आवंटन बाकी है और सीएम का कहना है कि जल्दी इस पर चर्चा की जाएगी। सोमवार को हुए फ्लोर टेस्ट में शिंदे सरकार को 164 मत मिले थे। विश्वास मत जीतने के बाद उन्होंने विधानसभा को बताया, 'विधान परिषद चुनाव के दिन और जिस तरह से मुझसे बर्ताव किया गया… मैंने तभी पीछे मुड़कर नहीं देखने का फैसला कर लिया था।' परिषद के चुनाव में भाजपा ने पांच सीटों पर चुनाव लड़ा और सभी अपने नाम की। जबकि, कांग्रेस के चंद्रकांत हंडोरे को हार का सामना करना पड़ा था।

इस दौरान उन्होंने असम के गुवाहाटी स्थित होटल में गुजारे हुए दिनों को भी याद किया। उन्होंने बताया कि कैसे जब सभी विधायक सो रहे होते थे, तो वह आधी रात को होटल से निकलते थे और जल्दी सुबह लौट आते थे। उन्होंने कहा, 'उनकी सरकार का असली कलाकार देवेंद्र फडणवीस हैं।' शिंदे ने गुरुवार को सीएम पद की शपथ ली है। वहीं, फडणवीस उप मुख्यमंत्री बने हैं। महाराष्ट्र में पिछले एक पखवाड़े की राजनीतिक उथल-पुथल की ओर इशारा करते हुए नए मुख्यमंत्री ने सोमवार को कहा कि उन्हें कुछ समय चाहिए जिसके बाद वह और फडणवीस मंत्रिमंडल के विभागों के आवंटन पर बातचीत करेंगे।
     
शिंदे नीत सरकार ने सोमवार को विधानसभा में बहुमत साबित किया। शिंदे ने बाद में संवाददाताओं से कहा, ''अब हमें ठीक से सांस लेने दें। हमारे लिए बहुत उथल-पुथल वाला समय रहा। मैं और देवेंद्र फडणवीस बैठेंगे और मंत्रिमंडल के विभागों और उनके आवंटन पर विचार करेंगे। हम भाजपा के राष्ट्रीय नेताओं की सहमति भी इसके लिए लेंगे।'' शिंदे ने कहा, ''पिछले कुछ दिन में हम काफी गहमागहमी से गुजरे हैं और अब कुछ वक्त हमें परिवार के साथ बिताने के लिए चाहिए।''