भाग्यशाली रहे कि पहले गेंदबाजी मिली, रसेल के पास जादुई छड़ी है : श्रेयस अय्यर

केकेआर के खिलाड़ियों ने खिताबी जीत के बाद कहा, गंभीर और नायर का योगदान अहम रहा

स्टार्क ने अहम मैचों शानदार गेंदबाजी से अपनी रिकॉर्ड कीमत को सही साबित किया

चेन्नई
 कोलकाता नाइट राइडर्स (केकेआर) के कप्तान श्रेयस अय्यर ने रविवार को यहां 2024 इंडियन प्रीमियर लीग का खिताब जीतने के बाद कहा कि वे भाग्यशाली रहे कि उन्हें पहले गेंदबाजी करने का मौका मिला।

फाइनल में सनराइजर्स हैदराबाद पर आठ विकेट की जीत दर्ज करने के बाद श्रेयस ने कहा, ‘‘भावनाओं को व्यक्त करना मुश्किल है। हमने खिलाड़ियों से जैसी उम्मीद कि उन्होंने वैसा ही प्रदर्शन किया। आज हम भाग्यशाली रहे कि पहले गेंदबाजी करने का मौका मिला।’’ उन्होंने कहा, ‘‘सनराइजर्स हैदराबाद को शानदार खेल दिखाने के लिए बधाई दी। यह दबाव वाला मैच था। मिचेल स्टार्क ने इतना शानदार प्रदर्शन किया, युवाओं के लिए उनसे सीख लेनी चाहिए।’’

श्रेयस ने आंद्रे रसेल की प्रशंसा करते हुए कहा, ‘‘रसेल के पास जादुई छड़ी है। ज्यादातर मैचों में उसने हमें विकेट दिलाये हैं। इसके बाद वेंकटेश अय्यर ने हमारे लिए जीत आसान कर दी। यह एकजुट प्रयास था। हमारे लिए शानदार सत्र रहा।’’

इसके बाद श्रेयस ने बीसीसीआई अध्यक्ष रोजर बिन्नी और सचिव जय शाह से ट्राफी हासिल की। पोडियम पर केकेआर के खिलाड़ी ट्राफी के साथ फोटो खिंचाने और जश्न मनाने लगे।

उप विजेता सनराइजर्स हैदराबाद के कप्तान पैट कमिंस ने कहा, ‘‘विपक्षी टीम ने कमाल की गेंदबाजी की। उनके गेंदबाजों ने हमें कोई मौका नहीं दिया। अहमदाबाद में पिछले मैच की तरह यह पेचीदा विकेट था। 200 रन से ज्यादा का विकेट नहीं था। पर 160 रन बनाने से मौका मिल जाता।’’ उन्होंने कहा, ‘‘हमने बल्ले से तीन बार 250 रन के स्कोर बनाये। यह शानदार सत्र रहा। हमारी टीम और स्टाफ शानदार था।’’

सुनील नारायण को ‘मोस्ट वैल्यूएबल प्लेयर’ (प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट) चुना गया।

सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ शानदार गेंदबाजी करने वाले मिचेल स्टार्क को ‘प्लेयर ऑफ द मैच’ से नवाजा गया।

नितीश रेड्डी को ‘एमर्जिंग प्लेयर ऑफ द सीजन’ का खिताब दिया गया।

रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरु के विराट कोहली को ‘ओंरेज कैप’ और हर्षल पटेल को ‘पर्पल कैप’ मिली।

रमनदीप सिंह को ‘कैच ऑफ द सीजन’ का पुरस्कार मिला।

हैदराबाद क्रिकेट संघ को ‘सर्वश्रेष्ठ पिच और मैदान’ का खिताब मिला।

केकेआर के खिलाड़ियों ने खिताबी जीत के बाद कहा, गंभीर और नायर का योगदान अहम रहा

 कोलकाता नाइट राइडर्स (केकेआर) के खिलाड़ी रविवार को यहां सनराइजर्स हैदराबाद को हराकर तीसरी बार इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) ट्रॉफी जीतने के बाद जश्न मनाते हुए भावनाओं से भरे थे और उन्होंने इसके लिए ‘मेंटोर’ गौतम गंभीर और सहायक कोच अभिषेक नायर के योगदान को अहम बताया।

आंद्रे रसेल और हर्षित राणा के लिए आईपीएल चैम्पियन बनने के बाद अपनी भावना व्यक्त करना मुश्किल हो रहा था, उन्होंने भी नायर की प्रशंसा की।

केकेआर ने सनराइजर्स हैदराबाद को 113 रन पर ढेर करने के बाद एकतरफा फाइनल में आठ विकेट से जीत दर्ज कर तीसरी ट्रॉफी जीती।

फाइनल में दो विकेट लेने वाले हर्षित राणा ने जीत के बाद कहा, ‘‘मैं कितना खुश हूं, यह बता नहीं सकता।’’

अनुभवी रसेल भी अपने आंसुओं को रोकने की कोशिश कर रहे थे और उनके पास इस खुशी को बयां करने के लिए शब्द नहीं थे। रसेल ने कहा, ‘‘बयां करने के लिए शब्द नहीं हैं। यह खिताब बहुत मायने रखता है। मुझे खुशी है कि हम सभी अनुशासित थे और एक लक्ष्य के लिए काम करते थे। इस फ्रेंचाइजी ने मेरे लिए बहुत कुछ किया है। यह ट्राफी हम सभी की ओर से उनके लिए एक तोहफा है।

अपनी स्पिन गेंदबाजी से सत्र का सफल समापन करने वाले वरुण चक्रवर्ती ने नायर के योगदान की सराहना करते हुए कहा, ‘‘अभी मैं सिर्फ उस व्यक्ति के बारे में सोच सकता हूं जिसने इस कोर टीम को बनाया है, वो हैं अभिषेक नायर।’’ उन्होंने नायर को अपनी ओर बुलाते हुए कहा, ‘‘कृपया यहां आयें।’’

वेंकटेश अय्यर 26 गेंद में 52 रन बनाकर नाबाद रहे। उन्होंने भी टीम की सफलता में नायर की भूमिका का जिक्र करते हुए कहा, ‘‘ट्राफी जीतकर खुश हूं। जैसा कि वरुण ने कहा कि अभिषेक नायर को सारा श्रेय जाता है। कुछ लोगों के योगदान पर ध्यान नहीं जाता है लेकिन मैं यह सुनिश्चित करना चाहता हूं कि ऐसा नहीं हो। वह जिस तरह से इस फ्रेंचाइजी के लिए काम कर रहे हैं, इस व्यक्ति को सारा श्रेय जाता है।’’ वेंकटेश ने कहा, ‘‘यह जीत उन प्रशंसकों के लिए है जो साल दर साल आते रहे और 10 साल तक इंतजार करते रहे।’’

नितीश राणा ने कहा, ‘‘मैं एक छोटी सी बात साझा करना चाहता हूं कि जब ‘जीजी’ (गौतम गंभीर) भैया को ‘मेंटोर’ बनाया गया तो मैंने उन्हें एक लंबा संदेश भेजा क्योंकि मैं बहुत खुश था। लेकिन उन्होंने जवाब देते हुए कहा, ‘धन्यवाद, लेकिन मुझे खुशी होगी अगर हम पोडियम पर अपने हाथ में ट्राफी लिये खड़े हों’। आज वो दिन है और मैं उस संदेश को कभी नहीं भूलूंगा।’’

खतरनाक ट्रेविस हेड को आउट करने वाले तेज गेंदबाज वैभव अरोड़ा ने कहा, ‘‘मेरी भूमिका नयी गेंद से विकेट लेने की है। उसके बाद स्पिनर अपना काम कर रहे थे। इसलिए आज भी पावरप्ले में विकेट लेना ही लक्ष्य था जो हुआ भी।

रिंकू सिंह ने कहा, ‘‘मेरा सात साल का सपना पूरा हो गया। आखिरकार मैं ट्रॉफी उठाऊंगा। मुझे अपनी पूरी टीम और ‘जीजी’ सर पर गर्व है। यह भगवान की योजना थी।’’

केकेआर के गेंदबाजी कोच भरत अरुण ने केकेआर के खिलाड़ियों के प्रदर्शन की प्रशंसा की। उन्होंने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि पिछले दो साल काफी कठिन थे। हम क्वालीफाई नहीं कर पाये थे। पर अब हम इस पल का आनंद ले सकते हैं।’’

फाइनल के सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी मिचेल स्टार्क के बारे में पूछे जाने पर अरुण ने कहा, ‘‘मुझे लगता है कि मिच के टीम में आने से टीम के अन्य युवाओं का आत्मविश्वास बढ़ा है। वह शायद दुनिया के सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज हैं। एक बार जब उन्होंने भारतीय परिस्थितियों को समझ लिया तो वे बेहतरीन हो गये।’’ उन्होंने कहा, ‘‘स्पिनर उम्र के साथ परिपक्व होते हैं। सुनील नारायण और वरुण चक्रवर्ती मिलकर गेंदबाजी कर रहे हैं, यह शानदार था।’’

नारायण के बारे में उन्होंने कहा, ‘‘वह हमारी बल्लेबाजी में एक बिल्कुल अलग आयाम लेकर आाये हैं। गौतम ने जोर देकर कहा कि वह पारी का आगाज करें और इसका फायदा मिला। शानदार रात है और अब जश्न मनाने का समय है।’’

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने भी केकेआर को तीसरी ट्राफी जीतने के लिए बधाई दी।

 

 

स्टार्क ने अहम मैचों शानदार गेंदबाजी से अपनी रिकॉर्ड कीमत को सही साबित किया

 मिचेल स्टार्क ने शायद ही वह ‘रील’ देखी होगी जो एक महीने पहले इंस्टाग्राम पर वायरल हुई थी जब स्टेडियम में भारतीय बल्लेबाजों द्वारा उनकी गेंदों पर लगातार छक्के जड़े जा रहे थे। इस रील में स्टार्क की आवाज की जगह हरियाणवी लहजे में कहा जा रहा था ‘मजा ही मजा, आईपीएल में अपनी 24.75 करोड़ रुपये के रिकॉर्ड कीमत का लुत्फ उठा रहा हूं।’’ इस रील को बनाने वाले हालांकि भूल गये थे कि स्टार्क बड़े मैचों के खिलाड़ी है और आईपीएल की नीलामी में उन पर इतनी बड़ी रकम इसीलिए लगी थी। आईपीएल में आठ साल बाद वापसी करने वाले स्टार्क ने शुरुआती नौ मैचों में सिर्फ सात विकेट लिये थे।

उन्होंने वानखेडे मैदान पर मुंबई इंडियंस के खिलाफ मैच अपनी प्रतिभा की झलक दिखायी और फिर प्लेऑफ तथा फाइनल में अपनी गेंदबाजी से टीम को चैम्पियन बनने में अहम योगदान दिया। स्टार्क ने इससे पहले भी बड़े टूर्नामेंटों के फाइनल में बड़े बल्लेबाजों के विकेट चटकाये है। अब वह मेलबर्न में खेले गये 2015 एकदिवसीय विश्व कप के फाइनल में बेहद खतरनाक ब्रेंडन मैकुलम का विकेट हो या 2023 विश्व कप का फाइनल, जहां उन्होंने शुभमन गिल और लोकेश राहुल को चलता कर भारतीय बल्लेबाजी को बैकफुट पर धकेल दिया था। इस आईपीएल में शानदार लय में रहे अभिषेक शर्मा को फाइनल में जिस तरह से स्टार्क ने चलता किया, उससे उन्हें अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट की झलक मिल गयी होगी। विश्व कप या आईपीएल जैसे बड़े टूर्नामेंट में आपको 30 विकेट लेने की ज़रूरत नहीं है,

बल्कि दो या तीन महत्वपूर्ण दिनों में अच्छा प्रदर्शन करना होता है। केकेआर ने तय किया कि स्टार्क की कीमत 24.75 करोड़ रुपये है और न्यू साउथ वेल्स के इस खिलाड़ी ने दिखाया कि जब बड़े मौके की बात आती है, तो वह अनमोल है। पिछले कई वर्षों से स्टार्क ने टेस्ट क्रिकेट को महत्व दिया और इस लिए दुनिया भर के लीग क्रिकेट में ज्यादा नहीं खेले। उनके लिए लाल कूकाबुरा गेंद से बल्लेबाजों को पवेलियन की राह दिखाने से बेहतर कोई दृश्य नहीं है। स्टार्क ने पिछले साल एशेज से पहले ब्रिटिश अखबार गार्जियन से कहा था, ‘‘टेस्ट जीत के बाद अपने साथियों के साथ बैठकर उस सप्ताह मिली सफलता पर विचार करने से बढ़कर मुझे क्रिकेट में और कुछ भी पसंद नहीं है। अपने कई करीबी साथियों के साथ बैगी ग्रीन में खेलने का लुत्फ उठाना शानदार है।’’