नगर पालिक निगम सिंगरौली का मतदान सम्पन्न परिणामो की घोषणा 17 जुलाई को

कलेक्टर पुलिस अधीक्षक के द्वारा मतदान केन्द्रो का भ्रणन निर्वाचन कार्य का लिया गया जायजा

सिंगरौली
जिले के एक मात्र नगर निगम नगर पालिक निगम सिंगरौली के महपौर पद एवं पार्षद पद का निर्वाचन प्रथम चरण में शांतिपूर्वक संपन्न हुआ। मतदान सम्पन्न होने के पश्चात मतदान दल में लगे कर्मियो द्वारा मतदान के लिए उपयोग में लाई गई ईव्हीएम मशीनो को स्ट्रांग रूम में जमा कराया जायेगा। नगर पालिक निगम के महापौर एवं पार्षद पदो के परिणामो की घोषणा 17 जुलाई को की जाएगी। निर्धारित मतदान केन्द्रों में प्रातः 6 बजे माकपोल कराने के पश्चात  7 बजे से मतदान का कार्य आरंभ हुआ। मतदान के समय प्रेक्षक श्री दिनेश चन्द्र सिंधी ने विभिन्न मतदान केन्द्रों का निरीक्षण किया। कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारी राजीव रंजन मीना, पुलिस अधीक्षक बीरेन्द्र कुमार सिंह तथा जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी साकेत मालवीय, अपर कलेक्टर डी.पी बर्मन, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक शिवकुमार बर्मा,संयुक्त कलेक्टर राजेश शुक्ला, एसडीएम ऋषि पवार, बी.पी पाण्डेय सहित राजस्व एवं पुलिस विभाग के अधिकारी दिन भर भ्रमण कर मतदान के दौरान शांति व्यवस्था बनाए रखने के प्रयास किए। मतदान के दौरान मोबाइल दलों ने लगातार भ्रमण कर निर्वाचन कार्यों एवं  कानून व्यवस्था की निगरानी की।

मतदान के दौरान सुबह से ही लगभग सभी मतदान केन्द्रों में मतदाताओं की लंबी-लंबी कतारें देखी गई।अधिकांश मतदान केन्द्रों में कुछ मतदाताओं की तुलना में महिला मतदाताओं की संख्या अधिक रही। कई बुजुर्ग मतदाताओं ने अपने परिवारजनों तथा सहयोगियों के साथ मतदान केन्द्र पहुंचकर अपने मताधिकार का उपयोग किया। जिले में लगभग 7 साल के अंतराल के बाद हो रहे नगरीय निकाय निर्वाचन में मतदाताओं का अभूतपूर्व उत्साह देखा गया। कई दिव्यांग मतदाताओं ने भी अपने मताधिकार का उपयोग किया। मतदान का निर्धारित समय शांय 5 बजे के बाद भी कुछ मतदान केन्द्रों में बड़ी संख्या में मतदाता मतदान के लिए कतार में खड़े रहे। जिन्हे पीठासीन अधिकारियों ने नियमानुसार पर्ची देकर इन सभी मतदाताओं को मतदान का अवसर दिया। जिन मतदान केन्द्रों में भीड़ थी उनमें अतिरिक्त पुलिस बल तैनात कर शांतिपूर्वक मतदान का कार्य संपन्न कराया गया। नगर निगम सिंगरौली के मतदान केन्द्रो पर शांय 5 बजे तक 52.56 प्रतिशत मतदाताओ द्वारा अपने मताधिकार का प्रयोग किया जा चुका था।