अलीगढ़
 अमरनाथ यात्रा में उत्तर प्रदेश की स्वास्थ्य विभाग की टीम अहम भूमिका अदा करेगी। यात्रा में चिकित्सा सुविधा देने के लिए प्रदेश के छह मंडलों से डॉक्टरों की ड्यूटी लगाई जाएगी। डॉक्टरों की ड्यूटी के लिए मिनिस्ट्री ऑफ हेल्थ एंड फैमिली वेलफेयर ने महानिदेशक चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सेवा उत्तर प्रदेश को पत्र लिखा है। छह मंडलों से 84 डॉक्टर और पैरामेडिकल स्टाफ की टीम अपनी सेवा देगी। अमरनाथ यात्रा 30 जून से 11 अगस्त तक प्रस्तावित है। जिसमें हजारों की संख्या भगवान शिव के भक्त यात्रा में शामिल होंगे। इस दौरान कई श्रद्धालुओं की तबीयत अचानक ही खराब हो जाती है।

आपात स्थिति में मरीज को उपचार देने के लिए हर साल मिनिस्ट्री ऑफ हेल्थ एंड वेलफेयर हर साल अलग अलग प्रदेश के डॉक्टरों तैनाती चिकित्सा कैंप में की जाती है। इस वर्ष चिकित्सा व्यवस्था संभालने की जिम्मेदारी उत्तर प्रदेश को सौंपी गई है। इस मानवीय कार्य को करने के लिए प्रदेश छह मंडलों को जिम्मेदारी सौंपी गई है। जिसमें अलीगढ़, सहारनपुर, मेरठ, मुरादाबाद, बरेली और कानपुर मंडल को जिम्मेदारी सौंपी गई। सभी मंडलों से करीब 84 डॉक्टर और पैरामेडिकल स्टाफ इस कार्य में शामिल होंगे।

यात्रा के दौरान ये होगी डॉक्टरों की टीम
महानिदेशक चिकित्सा एवं स्वास्थ्य सेवा उत्तर प्रदेश के पत्र के अनुसार यात्रा के दौरान विशेषज्ञ डॉक्टर, फिजिशियन डॉक्टर, एक्सरे टेक्नीशियन, ईसीजी टेक्नीशियन, लैब टेक्नीशियन, ओटी टेक्नीशियन और पैरा मेडिकल स्टाफ का बैच बनाया गया है। प्रत्येक मंडल से चार डॉक्टर, तीन फिजिशियन डॉक्टर, फार्मासिस्ट पांच और दो टेक्नीशियन तैनात करने के निर्देश दिए गए हैं।