लखनऊ

यूपी सहित चार राज्यों के विधानसभा चुनावों में मिली शानदार जीत की नींव पर भाजपा 2024 की इमारत खड़ी करना चाहती है। रामपुर और आजमगढ़ उपचुनावों में मिली जीत ने पार्टी के उत्साह में और वृद्धि कर दी है। इन सफलताओं की गूंज शनिवार को हैदराबाद में शुरू हुई भाजपा की तीन दिनी राष्ट्रीय कार्यकारिणी बैठक में सुनाई दी। भाजपा की हैदराबाद में शनिवार को शुरू हुई तीन दिनी राष्ट्रीय कार्यकारिणी बैठक में पहले दिन यूपी और योगी की खासी चर्चा रही। पहले विधानसभा चुनाव में सरकार के बरकरार रहने और फिर रामपुर-आजमगढ़ जैसे सपाई किलों को ध्वस्त करने के लिए योगी सरकार की सराहना की गई। योगी के काम और मोदी के नाम पर मिली इन सफलताओं को सभी ने सराहा। भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने इसे डबल इंजन सरकार की जीत बताया। वहीं पीएम मोदी और उनकी गरीब कल्याण नीति को सफलता के लिए महत्वपूर्ण बताया गया।

कार्यसमिति से पहले हुई राष्ट्रीय पदाधिकारियों की बैठक में यूपी, उत्तराखंड, गोवा और मणिपुर में भाजपा सरकारों के रिपीट होने पर प्रसन्नता जाहिर की गई। इसके बाद हुए निकाय और लोकसभा व विधानसभा उपचुनावों में भाजपा को मिली सफलता पर भी चर्चा की गई। खासतौर से वहां रामपुर और आजमगढ़ की जीत का जिक्र हुआ। जिसकी जानकारी बैठक के बाद भाजपा की वरिष्ठ नेता और राजस्थान की पूर्व सीएम वसुंधरा राजे ने मीडिया से साझा की।

तेज होंगी सांगठनिक गतिविधियां
इस जीत में संगठन स्तर पर हुए कामों की भी तारीफ की गई। मसलन बूथों की मजबूती, पन्ना प्रमुखों की भूमिका सहित अन्य सांगठनिक गतिविधियां शामिल हैं। पार्टी ने इस काम को और गति देने का फैसला किया है। इस पर कार्यसमिति की बैठक में विस्तार से चर्चा होगी।

बूथ सशक्तिकरण की हर सप्ताह होगी समीक्षा
भाजपा इन दिनों यूपी सहित देशभर में बूथ सशक्तिकरण अभियान चला रही है। राष्ट्रीय पदाधिकारियों की बैठक में इस अभियान को और गति देने पर चर्चा की गई। तय किया गया कि प्रदेश अध्यक्ष और संगठन मंत्री हर सप्ताह इसकी प्रगति की समीक्षा करेंगे ताकि जमीनी स्तर का फीडबैक निरंतर मिलता रहे। करीब पौने दो लाख बूथ वाले यूपी की भूमिका इसमें खास रहने वाली है क्योंकि यूपी की 80 सीटों में से फिलवक्त एनडीए के पास 66 सीटें हैं। पार्टी इस बार 75 प्लस का लक्ष्य लेकर चल रही है। इसके अलावा नेताओं के प्रवास और कार्यकर्ताओं से निरंतर संपर्क पर जोर रहेगा। हर लाभार्थी तक पहुंचने की कोशिश भी पार्टी करेगी ताकि 2024 में इसका लाभ मिल सके।

योगी का हुआ स्वागत
बैठक में भाग लेने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शनिवार को हैदराबाद पहुंचा। वहां एयरपोर्ट पर पार्टी नेताओं ने उनका स्वागत किया। उपमुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य व ब्रजेश पाठक, प्रदेश अध्यक्ष स्तंत्रदेव सिंह व प्रदेश महामंत्री संगठन सुनील बंसल पहले ही हैदराबाद पहुंच गए थे।