रीवा
जिले में पंचायतराज संस्थाओं के आम चुनाव के दूसरे चरण में एक जुलाई को मतदान होगा। इस चरण में विकासखण्ड रीवा, रायपुर कर्चुलियान तथा गंगेव की सभी पंचायतों में मतदान कराया जाएगा। मतदान कराने के लिए विकासखण्ड मुख्यालयों से मतदान दल 30 जून को मतदान सामग्री के साथ निर्धारित वाहनों से रवाना होंगे। कलेक्टर मनोज पुष्प तथा पुलिस अधीक्षक नवनीत भसीन ने तीनों विकासखण्डों के ग्रामीण क्षेत्रों का भ्रमण कर चुनाव के लिए किए जा रहे प्रबंधों तथा कानून व्यवस्था का जायजा लिया। कलेक्टर ने ग्राम नौवस्ता, धौचट, बैसा तथा पड़ोखर में आमजनता से पंचायत चुनाव के संबंध में संवाद किया। ग्राम पोड़की तथा अमिलकी में कलेक्टर ने मतदान केन्द्रों का निरीक्षण किया। कलेक्टर ने सुरक्षा बलों तथा अधिकारियों के साथ पूरे क्षेत्र की कॉम्बिंग की।

कलेक्टर ने ग्राम स्तरीय कर्मचारियों को निर्देश देते हुए कहा कि गावं के असामाजिक तत्व तथा उम्मीदवारों से जुड़े अराजक तत्वों पर लगातार कार्यवाही की जा रही है। यदि किसी व्यक्ति ने सपने में भी चुनाव के दौरान उपद्रव करने का मंसूबा बनाया तो वह जेल के अंदर होगा। गांव में अशांति पैदा करने वालों तथा अपराधियों पर कड़ी नजर रखी जा रही है। मतदाता निर्भय और निष्पक्ष होकर मतदान कर सके इसके लिए प्रशासन हर संभव उपाय कर रहा है।

कलेक्टर ने मौके पर उपस्थित राजस्व तथा पुलिस अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि आदतन अपराधियों और असामाजिक तत्वों पर प्रतिबंधात्मक कार्यवाही तत्काल करें। उम्मीदवारों को भी चुनाव के दौरान कानून व्यवस्था बनाए रखने के संबंध में समझाइश दें। मतदाता बिना किसी दबाव के अपनी पसंद के उम्मीदवार के पक्ष में मतदान कर सकें। इसके लिए हर मतदान केन्द्र में व्यवस्था की जा रही है। कलेक्टर ने अधिकारियों के साथ ग्राम अमिलकी, टीकर, चुंआ, लक्ष्मणपुर, खजुहा, बड़ागांव, बरहदी, लोहदवार तथा अन्य गांवों का भी भ्रमण किया। कलेक्टर ने ग्राम टीकर में तीन किलोमीटर की परिधि में बनाए गए 19 मतदान केन्द्रों का निरीक्षण किया। उन्होंने टीकर में अतिरिक्त सुरक्षा बल तैनात करने के निर्देश दिए। ग्राम टीकर में एक व्यक्ति द्वारा नशे की हालत में वातावरण खराब करने का प्रयास किया जा रहा था। कलेक्टर ने पुलिस अधिकारियों को उस पर कार्यवाही के निर्देश दिए।

कलेक्टर ने कहा कि मैदानी कर्मचारी निष्पक्ष होकर निर्वाचन कार्य संपन्न कराएं। बिना किसी भय के असामाजिक तत्वों के संबंध में समय रहते जानकारी दे दें। चुनाव के समय यदि किसी तरह का उपद्रव हुआ हो तो उपद्रव करने वालों के साथ-साथ अधिकारियों और कर्मचारियों पर भी कार्यवाही की जाएगी। पुलिस अधीक्षक ने पुलिस अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि लगातार क्षेत्र का भ्रमण करें। चुनाव को प्रभावित करने के लिए कई तत्व सक्रिय हैं। इन पर कड़ी निगरानी रखें। चुनाव में किसी ने भी बाधा डालने का प्रयास किया तो वह कठोर दण्ड का भागी बनेगा। यह संदेश असामाजिक तत्वों तक पहुंचा दें। उन्होंने आमजनता को समझाइश देते हुए कहा कि बिना किसी भय के सभी मतदाता मताधिकार का उपयोग करें। हर मतदान केन्द्र में पर्याप्त बल तैनात रहेगा। साथ ही पुलिस की सशस्त्र मोबाइल टीम लगातार क्षेत्र का भ्रमण करेगी। किसी भी तरह की कठिनाई होने पर तत्काल मोबाइल फोन पर सूचना दें। कुछ ही क्षणों में आप तक सहायता जरूर पहुंचेगी।

भ्रमण के समय कलेक्टर ने मतदान केन्द्रों की व्यवस्थाओं के संबंध में भी जानकारी ली। भ्रमण के समय जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी स्वप्निल वानखेड़े, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक अनिल सोनकर, एसडीएम अनुराग तिवारी, तहसीलदार हुजूर रामेश्वर त्रिपाठी, नायब तहसीलदार निवेदिता त्रिपाठी, विभिन्न थाना प्रभारी तथा पुलिस बल उनके साथ रहा।