नई दिल्ली
 

1. PAN- Aadhaar Linking: अगर आपने अभी तक अपना आधार-पैन कार्ड लिंक नहीं किया है तो अब आपके पास केवल एक हफ्ते ही बचे हैं।  अपने आधार को पैन से फटाफट लिंक करा लें।  आधार पैन को लिंक करने की आखिरी तारीख 30 जून है। आपको बता दें कि अगर आप 30 जून से पहले यह काम करवा लेते हैं तो आपको 500 रुपये जुर्माना देना होगा, लेकिन उसके बाद आपको दोगुना हर्जाना देना होगा।

2. TDS On Cryptocurrency: 1 जुलाई से क्रिप्टोकरेंसी के निवेशकों को बड़ा झटका लगने वाला है। अगले महीने से सभी क्रिप्टो के ट्रांजैक्शन पर 1 फीसदी टीडीएस का भुगतान करना होगा। फिर चाहे उसे मुनाफे में बेचा गया हो या नुकसान में। आपको बता दें कि साल 2022-23 से क्रिप्टोकरेंसी से होने वाले इनकम पर 30 फीसदी टैपिटल गेन टैक्स लगाने का फैसला किया है। अब 1 जुलाई से क्रिप्टो के लेन देन पर 1 फीसदी टीडीएस का भी भुगतान करना होगा।

3. 1 जुलाई से महंगे होने वाले हैं AC: अगले महीने से आपको एयर कंडीशनर (Air Conditioner) खरीदना महंगा पड़ेगा। दरअसल, BEE यानी Bureau of Energy Efficiency ने एयर कंडीशनर्स के लिए एनर्जी रेटिंग रूल्स में बदलाव कर दिया है। यह बदलाव 1 जुलाई से  लागू होगा। इसका मतलब है कि 1 जुलाई से 5-स्टार एसी की रेटिंग सीधे 4-स्टार हो जाएगी। नई एनर्जी एफिशिएंसी दिशानिर्देशों के परिणामस्वरूप, भारत में एसी की कीमतों में आने वाले समय में 7-10 प्रतिशत की वृद्धि होने की उम्मीद है।

4. 1 जुलाई से बदल जाएगी ऑफिस की टाइमिंग: देश में 4 लेबर कोड (श्रम संहिता) के लागू करने की प्रक्रिया अंतिम चरण में है। अगर सबकुछ ठीक रहा तो 1 जुलाई से लेबर कोड के नए नियम लागू हो जाएंगे। इसके लागू होने के साथ ही इन हैंड सैलरी, कर्मचारियों की ऑफिस टाइमिंग, पीएफ कंट्रीब्युशन के अलावा ग्रेच्युटी आदि पर असर पड़ने की संभावना है।  प्रस्ताव के मुताबिक,  कामकाज के अधिकतम घंटों को बढ़ाकर 12 करने का प्रस्ताव पेश किया है। कर्मचारियों को 4 दिन में 48 घंटे यानी हर दिन 12 घंटे काम करना होगा। कर्मचारियों को हर पांच घंटे के बाद आधा घंटे का विश्राम का भी प्रस्ताव है।

5. LPG की कीमत में बदलाव: गैस सिलेंडर की कीमत हर महीने की पहली तारीख को संशोधित की जाती है। सिलेंडर के दाम जिस तरह से लगातार बढ़ रहे हैं उसे देखते हुए अनुमान है कि 1 जुलाई को रसोई गैस की कीमतों में भी इजाफा हो सकता है।
 

6. Demat Account KYC: अगर आप शेयर बाजार में निवेश करते हैं तो आप 30 जून तक अपना ट्रेडिंग अकाउंट केवाईसी करवा लें वरना आपका अकाउंट अस्थायी रूप से बंद हो सकता है। अगर ऐसा होता है तो आप 1 जुलाई  से  शेयरों में ट्रेडिंग नहीं कर पाएंगे।