जगदलपुर
उद्योग एवं आबकारी मंत्री और जिले के प्रभारी मंत्री कवासी लखमा ने जगदलपुर शहर में जलमग्न क्षेत्रों का दौराकर स्थिति का जायजा लिया। उन्होंने खड़कघाट और गणपति रिसोर्ट में डुबान क्षेत्रों का मुआयना किया और स्थानीय निवासियों से चर्चा की।

मंत्री कवासी लखमा ने कहा की बस्तर जिले में अभी पर्याप्त वर्षा नहीं हुई है, अभी भी किसान भाइयों को पानी की आवश्यकता है। वर्तमान में सीमावर्ती राज्य ओडिशा, आंध्र प्रदेश में अत्यधिक वर्षा के कारण इंद्रावती नदी और गोदावरी नदी का जलस्तर बढ़ा है, जिससे सुकमा जिले के कोंटा  और जगदलपुर में कुछ स्थान जलमग्न हुए है। बस्तर संभाग के सभी जिलों में कोई हताहत नहीं हुआ है, कुछ सड़क मार्ग जरूर बाधित हुए है, जो जलस्तर कम होने पर पुन: सुचारू हो जायेंगे। उन्होंने कहा कि जिन क्षेत्रों में जलभराव होने से फसल क्षति होगी, जल स्तर कम होने पर उसका आकलन किया जाएगा और शासन द्वारा नियमानुसार मुआवजा प्रदान किया जाएगा।