गम्हरिया
विगत तीन माह पूर्व गम्हरिया थाना क्षेत्र के नवागढ़ स्थित गांजिया बराज के समीप मिले करीब 25 वर्षीय अज्ञात युवक के शव के मामले का खुलासा करते हुए पुलिस ने तीन युवकों को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार युवकों में राहुल कुमार, विवेक रजक और उदेश राय शामिल हैl पुलिस ने उक्त हत्या में प्रयुक्त मोटरसाइकिल (संख्या- जेएच05 डीडी/ 4794), अभियुक्त के काले रंग का टी शर्ट, गमछा और चाकू भी बरामद कर लिया है। इस संबंध में गम्हरिया थाना में एक प्रेस वार्ता आयोजित कर एसपी आनंद प्रकाश ने बताया की वह हत्या प्रेम प्रसंग में हुई थी।

उन्होंने बताया कि पूर्वी सिंहभूम जिले के कोवाली थाना अंतर्गत हल्दीपोखर स्टेशन के समीप रहने वाले उदेस राय की 20 वर्षीय बेटी डॉली राय का प्रेम संबंध नीतीश नामक युवक से चल रहा था। डॉली राय से मिलने नीतीश अक्सर उसके गांव हल्दीपोखर जाया करता था। बीते 12 अप्रैल'2022 की दोपहर में डोली राय की मां मोहनी देवी ने अपनी पुत्री और नीतीश को चोरी छुपे मिलते देख लिया। तत्पश्चात उसने घर आकर अपने पति तथा पुत्र राहुल को इसकी जानकारी दी। इसकी जानकारी मिलते ही उदेश राय एवं राहुल कुमार नीतीश को खोजने निकले। इसी दौरान राहुल ने अपने दोस्त विवेक रजक की मदद से नीतीश को ढूंढ निकाला और उसके साथ मारपीट करते हुए डॉली से दोबारा नहीं मिलने की चेतावनी दी। इसके बाद राहुल ने उसे फार्म हाउस ले जाने की बात कहते हुए अपने पिता को घर चले जाने को कहा। तत्पश्चात राहुल अपने दोस्त विवेक के साथ नितीश को हेसल स्थित फार्म हाउस ले आया और उसे समझाया।

इस दौरान विवेक ने नीतीश से शराब पीने की बात कही। वहीं विवेक अपने फार्म हाउस से चाकू लेकर पैकेट में छिपा लिया। वहां से राहुल कुमार के स्प्लेंडर बाइक से तीनों एक साथ बैठकर शराब लेने हेसल स्थित दुकान गए और वहां से एक बोतल शराब व पास स्थित दुकान से सिगरेट, पानी की बोतल और मिक्सचर लेकर तलाई पहाड़ के पास रात्रि करीब आठ बजे पहुंचे। वहां बैठकर तीनों ने शराब और सिगरेट पी। उसके बाद राहुल ने कहीं घूमने चलने की बात कही। जिस पर विवेक ने उसे गांजिया बराज के तरफ चलने को कहा। उसके बाद तीनों एक ही बाइक से गाजिया बराज की तरफ गए और डैम किनारे गाड़ी खड़ी कर नदी में हाथ पैर धोया। हाथ पैर धोने के बाद जब वह नदी किनारे आए तो अचानक राहुल और विवेक ने काले रंग के गमछे से नीतीश का मुंह और नाक दबा दिया जिससे वह छटपटा ने लगा और थोड़ी देर बाद बेहोश होकर गिर पड़ा।

उसके बाद राहुल ने विवेक से उसका हाथ पकड़ने की बात कही और अपनी जेब से चाकू निकालकर नीतीश के दोनों कलाई और गला परिवार कर उसे काट दिया। घटना को अंजाम देने के बाद उसके सब को उठा कर पानी में फेंक दिया। भागने के क्रम में राहुल ने चाकू को भी नगर में फेंक दिया। एसपी ने बताया कि अभियुक्तों ने अपना जुर्म स्वीकार कर लिया है। उन्होंने बताया कि पूछताछ के बाद सभी अभियुक्तों को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। उन्होंने बताया कि अभियुक्तों की गिरफ्तारी के लिए गमन थाना प्रभारी राजीव कुमार सिंह के नेतृत्व में एक टीम का गठन किया गया था जिसमें पुलिस अवर निरीक्षक रितेश कुमार, श्वेता कुजूर, चंदन कुमार और भास्कर ठाकुर शामिल थे। जिन्होंने छापेमारी कर सभी अभियुक्तों को गिरफ्तार करने में सफलता पाई।