कोलकाता
 
तृणमूल कांग्रेस विधायक इदरीस अली ने प्रधानमंत्री मोदी के ऊपर तंज कसा है। उन्होंने कहा है कि पीएम मोदी को भी एक दिन श्रीलंकाई राष्ट्रपति गोटाबाया राजपक्षे जैसे हालात का सामना करना पड़ेगा। गौरतलब है कि श्रीलंका में बिगड़ते आर्थिक हालात के बीच अपना ऑफिस छोड़कर भागना पड़ा है। यहां पर जनता का गुस्सा काफी ज्यादा भड़का हुआ है और शनिवार को लोग राष्ट्रपति से इस्तीफे की मांग करते हुए उनके निवास में पहुंच गए। इस दौरान लोगों ने गोटा गो होम के नारे लगाए थे बाद में प्रदर्शनकारियों ने प्रधानमंत्री विक्रम रानलसिंघे के निजी आवास में आग लगा दी थी।

टीएमसी को इस बात का है गुस्सा
असल में टीएमसी विधायक इदरीस के गुस्से की एक खास वजह है। कोलकाता में सियालदह मेट्रो स्टेशन के उद्घाटन कार्यक्रम में पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को इन्वाइट नहीं किया गया है। यह कार्यक्रम कल यानी 11 जुलाई को होने वाला है। केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी इस प्रोजेक्ट का उद्धाटन करने वाली हैं। इंडिया टुडे के मुताबिक इदरीस अली ने कहा कि ममता बनर्जी को इस कार्यक्रम में इन्वाइट न करना एक तरह से इस प्रोजेक्ट का अपमान है। उन्होंने कहा कि रेलमंत्री रहते हुए उन्होंने ही इस प्रोजेक्ट की शुरुआत की थी। गौरतलब है कि राज्य सरकार से किसी भी व्यक्ति को इस कार्यक्रम में आमंत्रित नहीं किया गया है।

दोनों के बीच आरोप-प्रत्यारोप
इससे पहले भी विक्टोरिया मेमोरियल में गृहमंत्री अमित शाह की अध्यक्षता में हुए एक कार्यक्रम में ममता बनर्जी को आमंत्रित नहीं किया गया था। तब टीएमसी ने इस मामले में केंद्र सरकार पर बंटवारे की राजनीति करने का आरोप लगाया था। हालांकि तब भाजपा ने पलटवार करते हुए कहा था कि यह परंपरा तो टीएमसी ने ही शुरू की है। उसने आरोप लगाया था कि टीएमसी राज्य सरकार के कार्यक्रमों में भाजपा के सांसदों और विधायकों को आमंत्रित नहीं करती है।