नई दिल्ली
बीजेपी की गुजरात इकाई के प्रमुख सीआर पाटिल के बयान पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने जवाब दिया है। उन्होंने कहा कि जनता को नहीं बल्कि अपने दोस्तों और मंत्रियों को फ्री रेवड़ी देने से श्रीलंका जैसा हालात पैदा होते हैं। दरअसल, बुधवार को पाटिल ने आप का नाम लिए बिना कहा था कि लोगों को ‘रेवड़ी संस्कृति’ के झांसे में नहीं आना चाहिए, क्योंकि इससे राज्य और भारत श्रीलंका बन सकता है जो फिलहाल गंभीर आर्थिक संकट से जूझ रहा है। बीजेपी गुजरात चीफ को जवाब देते हुए केजरीवाल ने कहा, 'जनता को फ्री रेवड़ी देने से श्रीलंका जैसे हालात नहीं होते। अपने दोस्तों/मंत्रियों को देने से होते हैं। श्रीलंका वाला अपने दोस्तों को फ्री रेवड़ी देता था। अगर जनता को देता तो जनता उसके घर में घुसके उसे ना भगाती। जनता को फ्री रेवड़ी भगवान का प्रसाद है। दोस्तों को फी रेवड़ी पाप।' पाटिल ने गांधीनगर में एक कार्यक्रम के दौरान बीजेपी कार्यकर्ताओं को रेवड़ी कल्चर के प्रति जागरूक किया था।

ये लोग गुजरात को श्रीलंका बनाना चाहते हैं
बीजेपी नेता ने कहा था, 'देश में कुछ लोग रेवड़ी (मुफ्त चीजें) बांट रहे हैं। लेकिन गुजरात के लोगों को ऐसी रेवड़ी संस्कृति से गुमराह नहीं होना चाहिए। क्या ये लोग (आप) गुजरात को श्रीलंका बनाना चाहते हैं? हमें ऐसे लोगों को मुंह तोड़ जवाब देना चाहिए। भाजपा कार्यकर्ता लोगों को समझाएं और उन्हें रेवड़ी संस्कृति के परिणामों के बारे में चेताएं। हम टीवी पर श्रीलंका की स्थिति देख सकते हैं जो चिंताजनक है। यह मुफ्त में चीजें बांटने की वजह से हुआ है।'

मुफ्त बिजली का ऐलान
गुजरात दौरे पर पहुंचे केजरीवाल ने विधानसभा चुनाव से पहले फ्री बिजली का ऐलान कर दिया है। उन्होंने कहा कि महंगाई काफी बढ़ गई है। बिजली के दाम भी लगातार बढ़ रहे हैं। हमने दिल्ली में फ्री बिजली दी। पंजाब में तीन महीने में फ्री बिजली दे दी। अब गुजरात में आप की सरकार बनने पर हम मुफ्त बिजली देंगे। उन्होंने कहा कि मैं गुजरात में पहली गारंटी के तौर पर फ्री बिजली का वादा करता हूं।