उज्जैन
महाकाल दर्शन के लिए जा रहे दो युवकों को बेगमबाग चौराहे पर छह बदमाशों ने रोका और उनके साथ मारपीट कर चाकू मार दिए। बदमाशों ने युवकों से पहले पूछा था कि वह कहां जा रहे है, युवकों ने जैसे ही उन्हें बताया कि वह महाकाल जा रहे हैं तो उनके साथ मारपीट शुरू कर दी। मामले की जानकारी लगने पर हिंदूवादी संगठन के लोगों ने महाकाल थाने पर जमकर हंगामा किया।

पुलिस ने बताया कि संदीप सिंह उम्र 18 वर्ष निवासी भलाईखुर्द, सोनकच्छ (देवास) तथा पकंजसिंह राघव उम्र 20 वर्ष निवासी अवंतिपुर बड़ोदिया शाजापुर शुक्रवार को प्रशांति कालेज में आयोजित परीक्षा देने के लिए उज्जैन आए थे। जहां से दोनों अपने रिश्तेदार के यहां गए थे। इसके बाद दोनों महाकाल मंदिर दर्शन करने के लिए जा रहे थे। दोनों युवक हरिफाटक पुल से पैदल मंदिर की ओर जा रहे थे। बेगमबाग चौराहे पर खड़े छह बदमाशों ने दोनों को रोककर उनसे पूछा कि वह कहां जा रहे हैं तो उन्होंन महाकाल मंदिर जाने की बात कही थी। इस पर बदमाशों ने उनके साथ मारपीट शुरू कर दी और एक बदमाश ने संदीप को चाकू मार दिए। जिससे वह घायल हो गया। इसके बाद दोनों युवकों ने फ्रीगंज स्थित निजी अस्पताल में काम करने वाले परिचित को फोन लगाया और अस्पताल चले गए, जहां दोनों का इलाज करने के बाद युवक उन्हें लेकर थाने पहुंचा था।

हंगामे के बाद दर्ज किया केस

महाकाल मंदिर जाने वाले युवकों के साथ मारपीट की जानकारी मिलने पर हिंदूवादी संगठन के सदस्य भी महाकाल थाने पहुंच गए थे। जहां उन्होंने जमकर हंगामा किया, इसके बाद पुलिस ने आरोपितों के खिलाफ केस दर्ज किया है।