इटावा
 अपने से दोगुनी उम्र व काला दूल्हा देखकर दुल्हन ने शादी से इंकार कर दिया और बरात वापस लौट गयी। दुल्हन ने आरोप लगाया कि उसको जो फोटो दिखायी गयी वह दूसरी थी। दुल्हन को बिना लड़का दिखाये मामा व भाई ने शादी तय की थी। दुल्हन के पिता दिव्यांग हैं। कोतवाली क्षेत्र के झिंदुआ के नगला बाग की रहने वाली 16 साल की किशोरी की शादी समथर जाफरपुर के 30 साल के लड़के के साथ तय हुई थी। तय समय पर बुधवार को बारात गांव पहुंची और स्वागत सत्कार किया गया। रात 10 बजे जयमाला कार्यक्रम शुरू हुआ। इस बीच स्टेज पर दूल्हा अपने दोस्तों संग बैठा था। स्टेज पर जाकर दुल्हन ने शादी के लिए मना कर दिया।

दुल्हन जयमाला के लिये स्टेज पर पहुंची लेकिन दुल्हन ने दूल्हे को देखते हुए नाराजगी जताई और शादी से साफ इंकार कर दिया। दुल्हन से लोगों ने शादी से इंकार करने का कारण पूछा तो दुल्हन ने कहा कि शादी के पहले उसको जो फोटो दिखायी गयी थी वह दूसरे लड़के की थी और शादी दूसरे से करायी जा रही है। दोगुनी उम्र के दूल्हे से शादी होते देखकर लड़की ने साफ कह दिया कि उम्र ज्यादा होने के साथ ही काला भी है। नाते रिश्तेदारों के समझाने बुझाने के बाद भी वह शादी को तैयार नहीं हुई। दुल्हन की मां ने भी बताया कि शादी के लिये जो फोटो भेजी गयी थी वह दूसरे लड़के की थी।

शादी टूटने के बाद दूल्हे के बाबा ने पुलिस को तहरीर देकर लड़की के पिता पर आरोप लगाया कि उन्होंने सारे गहने भी रख लिये और शादी भी तोड़ दी। वहीं लड़की केवल 16 साल की बताई जा रही है। नाबालिग लड़की की शादी के चलते इस मामले में लड़की के घर वालों पर भी कार्रवाई हो सकती है।