नई दिल्ली
भारत और साउथ अफ्रीका (IND vs SA) के बीच 5टी20 मैच की सीरीज का आखिरी मुकाबला बैंगलोर के एम चिन्नास्वामी स्टेडियम में खेला जाना है। सीरीज के शुरुआती दो मैच जीतकर मेहमान टीम ने भारत को बैकफुट पर धकेल दिया था, मगर टीम इंडिया के युवा सितारों ने जोरदार वापसी कर अगले दो मुकाबले जीते और अफ्रीकी टीम की बराबरी की। राजकोट में खेले गए पिछले मैच के दौरान साउथ अफ्रीका के कप्तान टेम्बा बावुमा (Temba Bavuma injured) चोटिल हो गए थे। रिटायरहर्ट होने के बाद वह अंत तक बल्लेबाजी करने मैदान पर नहीं उतरे। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार शनिवार को बावुमा को गलपट्टी के साथ देखा गया जिसके बाद उनके फाइनल टी20 में खेलने की संभावनाएं कम दिखाई दे रही है। ऐसे में साउथ अफ्रीका की कप्तानी कौन करेगा यह बड़ा सवाल है। वहीं बात टीम इंडिया की करें तो भारत ने अभी तक चारों मैच एक ही प्लेइंग इलेवन के साथ खेले हैं। क्या आखिरी टी20 में भी टीम इंडिया उन्हीं 11 खिलाड़ियों के साथ उतरेगी या फिर बैंच पर बैठे खिलाड़ियों को मौका मिलेगा। आइए जानते हैं फाइनल टी20 मुकाबले की संभावित प्लेइंग इलेवन-

भारतीय प्लेइंग इलेवन में बदलाव होने की संभावनाएं कम
ऋषभ पंत बतौर कप्तान अपने गुरु महेंद्र सिंह धोनी की राह पर चलते हुए दिखाई दे रहे हैं। जिस तरह धोनी सीरीज या टूर्नामेंट की शुरुआत से अपनी बेस्ट प्लेइंग इलेवन लेकर उतरते थे उसी तरह पंत भी इस सीरीज में अपने बेस्ट 11 खिलाड़ियों को लेकर उतरे हैं। सीरीज के पहले दो मुकाबले हारने के बावजूद कप्तान ने अपनी प्लेइंग इलेवन में बदलाव नहीं किया और उनके इसी भरोसे ने खिलाड़ियों के आत्मविश्वास को बढ़ाया। उम्मीद यही है कि फाइनल मुकाबले में भी पंत कोई बदलाव नहीं करेंगे और बेंच पर बैठे खिलाड़ियों को आयरलैंड सीरीज का इंतजार करना होगा।

 बावुमा की गैरमौजूदगी में केशव महाराज संभाल सकते हैं कप्तानी
अगर टेम्बा बावूमा आज के मुकाबले से बाहर होते हैं तो केशव महाराज उनकी जगह कप्तानी की जिम्मेदारी संभाल सकते हैं। बावूमा के बाहर होने पर रीज़ा हेंड्रिक्स को मौका मिल सकता है। इसके अलावा मेहमान टीम की प्लेइंग इलेवन में दो और बदलाव देखने को मिल सकते हैं। पिछले मुकाबले में निगल इंजरी की वजह से कगिसो रबाडा और वेन पार्नेल नहीं खेल पाए थे। उम्मीद जताई जा रही है कि यह दोनों खिलाड़ी अब फिट है और फाइनल टी20 के चयन के लिए उपलब्ध रहेंगे। इन दोनों खिलाड़ियों की वापसी से मार्को जेनसन और तबरेज शम्शी पर गाज गिर सकती है।