सतना
केंद्र सरकार और मध्य प्रदेश सरकार द्वारा रसोई गैस आवंटित कराया है !मगर आज भी क्षेत्र में ऐसे घर उपलब्ध है !जहां अभी भी लकड़ियों से लोग खाना बना रहे हैं और उज्जवल योजना का लाभ अभी भी लोगों को नहीं मिल रहा जिसके कारण लोग शासन की योजनाओं को लेने के लिए भटक रहे हैं.

जीता जागता उदाहरण प्रकाश पर आया है बीच ग्राम पंचायत अर्जुनपुर की प्राथमिक शाला में आज भी रसोई मैं माताओ को चूल्हा फूँक कर बच्चो के लिए भोजन पकाने विवश होना पड़ रहा है, जिससे न सिर्फ रसोई की दीवारो बल्कि रसोई माताओ की भी फजीहत है, एक तरफ इन दिनों उज्ज्वला योजना के चलते जंहा हर घर LPG सिलेंडर पहुंच गए है तो वही इस स्कूल में आज भी बच्चो को पका हुआ भोजन खिलाने के लिए समूह द्वारा लकड़ियों से चूल्हे में खाना बनवाया जा रहा है, जबकि पैसा गैस सिलेंडर का मिल रहा है,सवाल लाजमी है की आखिर कब तक इन रसोई  माताओ को चूल्हे से निजात मिलेंगी ?