गाजियाबाद

उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में किशोरी से गैंगरेप के मामले में पीड़ित परिवार के करीब एक महीने तक संघर्ष करने के बाद कविनगर थाना पुलिस ने फरार चल रहे 2 आरोपियों को गिरफ्तार किया है। इससे पीड़िता के परिवार ने राहत की सांस ली है। हालांकि उनका कहना है कि पुलिस इस मामले में अगर ठीक से कार्रवाई करती तो उन्हें इतना परेशान नहीं होना पड़ता। बता दें कि एनबीटी लगातार इस मामले को उठा रहा था। जिसके चलते गाजियाबाद पुलिस से लखनऊ से जवाब मांगे जा रहे थे।

सीओ कविनगर अवनीश कुमार ने बताया कि आरोपी सुमित और तस्सी को गिरफ्तार किया गया है। इससे पहले टीम ने मुकुल को गिरफ्तार कर जेल भेजा था। इस मामले में अब सभी आरोपियों को गिरफ्तार किया जा चुका है। मालूम हो कि 19 मई को किशोरी को कार में अगवा कर गैंगरेप किया गया था। इस मामले में पीड़ित परिवार के कई बार एसएसपी ऑफिस में शिकायत करने के बाद एक आरोपी को गिरफ्तार किया गया था। बाद में सीओ पर भी कार्रवाई न करने के आरोप लगे थे।

नहीं मिला कोई अश्लील वीडियो
इस मामले में पीड़िता का आरोप है कि उसके साथ गैंगरेप के दौरान अश्लील वीडियो भी बनाया गया था। जिसे वायरल करने की धमकी दी जा रही थी। तीनों आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद भी पुलिस को ऐसा कोई वीडियो नहीं मिला है। सीओ ने बताया कि पहले गिरफ्तार मुकुल और अब गिरफ्तार किए गए दोनों आरोपियों पास से ऐसा कोई वीडियो नहीं मिला है। वीडियो के बारे में जानकारी की जा रही है।