ग्रामीणों को दी मतदान की जानकारी
हर एक वोट है कीमती, वोट न हो निरस्त यह जानना ज्यादा जरूरी – सारिका घारू

बड़वानी
पंचायत चुनावों के पहले दो चरणों में जहां लगभग 80 प्रतिशत से अधिक लोगों ने मतदान किया लेकिन कुछ मतदान केंद्रों पर उनमें से लगभग 15 प्रतिशत मत निरस्त हो गये। ऐसा या तो मतपत्र पर दो स्थानों पर मुहर लगाने, मुहर न लगाने, या फिर दो प्रत्याशियों के बीच की लाईन पर मुहर लगाने से निरस्त हुये। आने वाले अंतिम चरण में इसे कम करने के लिये राज्य निर्वाचन आयोग की ब्रांड एम्बेसेडर सारिका घारू ने बड़वानी पहंुचकर ग्रामीण क्षेत्रों में जागरूकता कार्यक्रम किया।
    
सारिका ने बताया कि राज्य निर्वाचन आयुक्त श्री बी पी सिंह एवं सचिव श्री राकेश सिंह तथा सेंस गतिविधियों के प्रमुख डॉ सुतेश शाक्य के मार्गदर्शन एवं कलेक्टर तथा जिला निर्वाचन अधिकारी श्री शिवराज सिंह वर्मा के निर्देशन में वे जागरूकता कार्यक्रम कर रही हैं।
    
सारिका ने बताया कि मतपत्र में मुहर लगाने के दौरान वृद्धों एवं नव मतदाताओं से गलती होने की संभावना रहती है। गलत स्थान पर मुहर लगने से मत निरस्त हो सकता है। मतदान में सहीं तरीके से मुहर लगाकर वोट डालने का संदेश देने के लिये डमी मतपत्र की मदद से वे मतदान का सही तरीका बताया।

सारिका घारू ने बताया कि इन परिस्थितियों में आपका मत निरस्त हो सकता है –

  • किसी एक पद के लिये मुहर अगर एक से अधिक प्रत्याशियों के लिये लगाई गई हो।
  • मुहर अगर दो प्रत्याशियों के बीच में बनी ठीक जालीदार विभाजक पर लगी हो ।
  • अगर किसी ने पेन से अपना नाम या पहचान मतपत्र पर लिख दी हो।
  • किसी ने प्रत्याशी के कॉलम में न लगाकर मतपत्र के उपर या पीछे मुहर लगा दी हो।
  • अगर किसी भी प्रत्याशी को मुहर न लगाई हो।