नई दिल्ली
 कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 से पहले साउथ अफ्रीका की महिला टीम ने इंग्लैंड का दौरा किया। साउथ अफ्रीका की महिला टीम चाहती थी कि टूर्नामेंट से पहले अच्छी तैयारी की जाए, लेकिन इंग्लैंड और साउथ अफ्रीका के बीच खेली गई टेस्ट, वनडे और टी20 सीरीज का नतीजा एकतरफा रहा। इंग्लैंड बनाम साउथ अफ्रीका वुमेंस टेस्ट मैच ड्रॉ पर समाप्त हुआ था, लेकिन वनडे और टी20 सीरीज में इंग्लैंड की टीम ने साउथ अफ्रीका का सूपड़ा साफ कर दिया।

सोमवार 25 जुलाई को खेले गए तीसरे टी20 इंटरनेशनल मैच में इंग्लैंड की टीम ने 38 रन से जीत हासिल की। इसी के साथ साउथ अफ्रीका की महिला टीम का इंग्लैंड दौरा मायूसी के साथ समाप्त हुआ, क्योंकि वनडे सीरीज में क्लीन स्वीप झेलने के बाद T20I सीरीज में भी साउथ अफ्रीका की टीम को व्हाइट वॉश झेलना पड़ा। साउथ अफ्रीका की टीम की CWG की तैयारियों को ये बड़ा झटका है, क्योंकि इंग्लैंड की टीम वाले ग्रुप में साउथ अफ्रीका भी है।

तीसरे T20I मैच की बात करें तो इंग्लैंड की महिला टीम ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में 6 विकेट खोकर 176 रन बनाए थे। सोफी एक्लेस्टोन ने 12 गेंदों में ताबड़तोड़ 33 रन बनाए थे। उनके अलावा 30 रन डेनियल व्याट ने भी बनाए। साउथ अफ्रीका की तरफ से नॉनकुलुलेको मलाबा ने 3 विकेट चटकाए। वहीं, 177 रनों के जवाब में मेहमान टीम 6 विकेट खोकर 138 रन बना सकी और मुकाबला 38 रन से हार गई।
 
साउथ अफ्रीका की महिला टीम की तरफ से 59 रनों की पारी ताजमिन ब्रिट्स ने खेली, लेकिन ये 57 गेंदों में खेली गई पारी किसी काम नहीं आई, क्योंकि टीम को 6 रन प्रति ओवर नहीं, बल्कि करीब 9 रन प्रति ओवर की गति से रन चाहिए थे। उनके अलावा कई बल्लेबाजों को शुरुआत मिली, लेकिन कोई बड़ी पारी नहीं खेल सका। इंग्लैंड की तरफ से सोफी एक्लेस्टोन और फ्रेया केम्प ने 2-2 विकेट चटकाए। एक्लेस्टोन प्लेयर ऑफ द मैच के साथ-साथ प्लेयर ऑफ द सीरीज रहीं।