नई दिल्ली

साउथ अफ्रीका और इंग्लैंड के बीच मंगलवार 19 जुलाई को डरहम में तीन मैचों की वनडे सीरीज का पहला मुकाबला खेला गया। इस मैच में साउथ अफ्रीका की क्रिकेट टीम ने एक बड़ा कमाल कर दिया। इंग्लैंड के खिलाफ साउथ अफ्रीका की टीम ने विशाल स्कोर बनाया, लेकिन हैरान करने वाली बात ये थी कि कोई भी बल्लेबाज एक भी छक्का टीम के लिए नहीं लगा सका और ये वनडे इंटरनेशनल क्रिकेट के इतिहास का संयुक्त रूप से दूसरा सबसे बड़ा स्कोर था।

दरअसल, बेन स्टोक्स के आखिरी वनडे इंटरनेशनल मैच में साउथ अफ्रीका की टीम ने बिना एक भी छक्का लगाए 333 रन बनाए। वनडे इंटरनेशनल क्रिकेट में ऐसा तीसरी बार था, जब किसी टीम ने 330 से ज्यादा रन बनाए और एक भी छक्का नहीं लगाया। 2011 में इंग्लैंड की टीम ने जो रिकॉर्ड ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ बनाया था। वही, रिकॉर्ड अब इंग्लैंड के खिलाफ साउथ अफ्रीका ने बनाया है। यहां तक कि साउथ अफ्रीका की तरफ से एक शतक और दो अर्धशतक जड़े गए थे।

वनडे इंटरनेशनल क्रिकेट में बिना छक्का लगाए सबसे ज्यादा रन बनाने का रिकॉर्ड श्रीलंका के नाम है। श्रीलंका ने 8 विकेट खोकर 345 रन वेस्टइंडीज के खिलाफ 2020 में बनाए थे। वहीं, अब साउथ अफ्रीका ने 5 विकेट खोकर 333 रन बनाए हैं। इतने ही रन 6 विकेट खोकर इंग्लैंड की टीम ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ 2011 में बनाए थे। साउथ अफ्रीका बनाम इंग्लैंड मैच की बात करें तो इंग्लिश टीम ने 3 छक्के जड़े।