रायपुर
रायपुर शहर में सड़क और यातायात को नियंत्रित कर सुरक्षित आवागमन के लिए जिला सड़क सुरक्षा समिति की बैठक में गहन विचार विमर्श किया गया। बैठक में लोकसभा सांसद सुनील सोनी सहित कलेक्टर डॉ सर्वेश्वर भुरे और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक प्रशांत अग्रवाल भी शामिल हुए। बैठक में रायपुर में सात अति दुर्घटनाजन्य जगहों पर दुर्घटनाएं रोकने के लिए किए जाने वाले उपायों पर भी चर्चा की गई। बैठक में रिंग रोड नं 1 पर पचपड़ी नाका, कुशालपुर और रायपुरा फ्लाईओवर के पास सर्विस रोड और सड़क किनारे लगे हाई टेंशन बिजली के खंबों को हटाकर सर्विस रोड को चौड़ी करने का काम तेजी से शुरू कराने पर भी चर्चा की गई। बैठक में जिला पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी रवि मित्तल, नगर निगम रायपुर के आयुक्त मयंक चतुवेर्दी, ए.डी.एम एन.आर.साहू, नगर निगम बिरगांव के आयुक्त श्रीकांत वर्मा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक यातायात मंडावी, डी.एस.पी ट्रैफिक सतीश ठाकुर, क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी, राष्ट्रीय राजमार्ग विकास प्राधिकरण के प्रतिनिधि और लोक निर्माण विभाग सहित संबंधित विभाग के अधिकारी भी शामिल हुए।

रायपुर जिले में इस समय ऐसे सात ब्लैक स्पॉट है। इनमें राष्ट्रीय राजमार्ग क्रमांक 53 पर टाटीबंद चौक, पिंटू ढाबा से सिरीखेड़ी ओवरब्रिज कटिंग तक, मंदिरहसौद बस स्टैंड चौक तथा महात्मा गांधी सेतु महानदी पारा गांव, राष्ट्रीय राजमार्ग क्रमांक 30 पर मेटल पार्क मोड़ से धनेली नाला, सिलतरा मोड़ से सेंट्रल बैंक आॅफ इंडिया के सामने तक सिलतरा तथा दैनिक भास्कर प्रेस से सिंघानिया चौक तक उरला शामिल है। बैठक में टाटीबंध चौक फ्लाईओवर निर्माण की प्रगति की भी जानकारी सदस्यों ने ली। यह आवागमन को सुरक्षित और सुगम्य बनाने के लिए गढ्ढों की मरम्मत कराने पर सहमति बनी। पिंटू ढाबा से सिरीखेड़ी ओवरब्रिज कटिंग तक स्थाई डिवाईडर बनाने की स्वीकृति की जानकारी एन.एच.ए.आई के प्रतिनिधियों द्वारा दी गई। मंदिरहसौद बस स्टैंड चौक पर बिलंकर मोड में सिग्नल लगाने पर भी बैठक में सहमति बनी। इसी प्रकार राष्ट्रीय राजमार्ग क्रमांक 30 पर मेटल पार्क मोड़ से धनेली नाला पर दोंनो तरफ सड़क समतलीकरण कराया जाएगा। सिलतरा मोड़ से सेंट्रल बैंक आॅफ इंडिया के सामने तक अस्थाई स्टॉपर लगाकर सड़क बंद की गई है। इस स्थान पर ग्रिल लगाकर स्थाई रूप से बंद करने और अंडरपास बनाने का सुझाव बैठक में दिया गया। लोक निर्माण विभाग के अधिकारियों ने बताया कि दैनिक भास्कर प्रेस से सिंघानिया चौक तक उरला में गति सीमा संकेतक, लाइट की व्यवस्था के साथ सावधानी रखने संबंधी बोर्ड लगवाकर वाहन चालकों को सतर्क किया जा रहा है।

लोकसभा सांसद सुनील सोनी ने बैठक में रिंग रोड नं 1 पर पिछले दिनों मठपुरैना स्कूल-जल शोधन संयंत्र के सामने सड़क दुर्घटनाओं की संख्या बढ?े पर गहरी चिंता व्यक्त की। उन्होंने बताया कि सड़क के एक तरफ आबादी और दूसरी तरफ मठपुरैना हाई स्कूल स्थित है। सड़क पार कर बच्चें स्कूल जाते है और तेज रफ्तार वाहनों की चपेट में आने से इस जगह पर सड़क दुर्घटनाएं बढ़ रही है। सांसद ने इस जगह पर ट्रैफिक सिग्नल लगाने का सुझाव एन.एच.ए.आई के अधिकारियों को दिया। उन्होंने अधिकारियों को इसका प्रस्ताव तैयार करने को भी कहा।

वाहनों की गति को नियंत्रित कर सड़क दुघटनाओं को रोकने के लिए शहर में 14 जगहों पर नए आॅटोमेटिक स्मार्ट ट्रैफिक सिग्नल लगाए जाएंगे। नगर निगम के अधिकारी इसके लिए विस्तृत सर्वे कर ऐस्टीमेट तैयार करेंगे। अधिकारी शहर के कुछ सिग्नलों को बंद करने या अन्य जगह शिफ्ट के लिए भी सर्वे कर रिपॉर्ट तैयार करेंगे। रायपुर शहर में गोंदवारा चौक रिंग रोड 2, व्यास तालाब तिराहा, अमलीडीह चौक केनाल रोड पर, रामकृष्ण हॉस्पिटल के सामने, आश्रम तिराहा, डुंडा कमल बिहार तिराहा, के.के. रोड नहरपारा चौक, डंगनिया चौंक एनआईटी के पास, धुप्पड़ पेट्रोल पम्प के पास जी.ई. रोड, मण्डी गेट के सामने, दलदल सिवनी तिराहा, अनुपम गार्डन तिराहा, विधानसभा ओव्हरब्रीज के नीचे, कचना चौंक रिंग रोड-3 पर नए सिग्नल लगाए जाएंगे। बैठक में सभी चौक-चौराहों एवं सड़कों पर मार्किग करने पर भी सहमति बनी।