चेन्नई
 केंद्र सरकार की सेना भर्ती योजना 'अग्निपथ' के विरोध में गुस्साए लोग रेलवे की संपत्ति को नुकसान पहुंचा रहे हैं। इस बीच दक्षिणी रेलवे ने चेन्नई सेंट्रल, तिरुपुर, कोयंबटूर, मदुरै, सेलम, झोलरपेट, अरकोनम समेत पूरे तमिलनाडु के सभी प्रमुख स्टेशनों पर सुरक्षा बढ़ा दी है। तमिलनाडु पुलिस ने चेन्नई में मुख्य सड़क की घेराबंदी शुरू कर दी है, जिससे सेना के अधिकारी मेस और अन्य सैन्य प्रतिष्ठानों की ओर बढ़ रहे हैं।

कांचीपुरम और कुंभकोणम इलाकों में विरोध प्रदर्शन होने की खबर सामने आ रही हैं।

तमिलनाडु पुलिस हाई अलर्ट पर है। खुफिया जानकारी मिली है कि प्रदर्शन कर रहे युवा कई उत्तरी राज्यों में आगजनी और ट्रेनों को जलाने के बाद रेलवे स्टेशनों और रेलवे संपत्तियों पर हमलों का नेतृत्व कर सकते हैं।

शुक्रवार को विरोध प्रदर्शन के बाद सिकंदराबाद में पुलिस की गोलीबारी में एक युवक की मौत हो गई। ऐसे में तमिलनाडु पुलिस और रेलवे सुरक्षा बल कोई जोखिम नहीं उठाना चाहते।

प्रमुख रेलवे स्टेशनों पर दंगा नियंत्रण वाहनों को बुलाया गया हैं और सभी अग्निशमन विभाग को भी सतर्क कर दिया गया है।

अग्निपथ विरोध-प्रदर्शन के कारण चेन्नई सेंट्रल रेलवे स्टेशन से कई ट्रेनों को रद्द कर दिया गया है।

तमिलनाडु के सभी हिस्सों में हिंसा फैलने की संभावना को लेकर केंद्र और राज्य दोनों से मिल रही खुफिया सूचनाओं के बाद सुरक्षा बल हाई अलर्ट पर हैं।