नई दिल्ली
 
बाजार नियामक सेबी ने नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) और उसके दो पूर्व प्रमुखों एवं कुछ अन्य लोगों पर कुल 11 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया है।  भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड (सेबी) ने गुरुवार को कहा कि एल्गोरिद्म आधारित शेयर कारोबार से संबंधित सॉफ्टवेयर से जुड़े इस मामले में एनएसई और उसके पूर्व प्रमुखों चित्रा रामकृष्ण एवं रवि नारायण पर एक-एक करोड़ रुपये का जुर्माना लगाने का फैसला किया गया है।

इसके अलावा एनएसई के तत्कालीन अधिकारी सुप्रभात लाल पर भी नियमों के उल्लंघन के लिए एक करोड़ रुपये जुर्माना लगाया गया है।    इसके साथ ही एनएसई की अनुषंगी एनएसएससीएल के बोर्ड में शामिल रहे अजय शाह पर तीन करोड़ रुपये, सॉफ्टवेयर बनाने वाली कंपनी इंफोटेक फाइनेंशियल सर्विसेज लिमिटेड पर दो करोड़ रुपये और सुनीता थॉमस एवं कृष्णा दागी पर एक-एक करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया गया है।