नई दिल्ली
रोहित शर्मा की कप्तानी में 3 मैचों की सीरीज को पहले ही 2-0 से अपने नाम कर लेने वाली टीम इंडिया के सामने नाटिंघम में होने वाले तीसरे टी20 में क्लीन स्वीप करने का सुनहरा मौका है। बर्मिंघम में खेले गए दूसरे मैच में टीम ने इंग्लैंड को 49 रनों से हराकर लगातार दूसरी जीत दर्ज की। दूसरे टी20 मैच में किसी को अंदाजा नहीं था कि टीम 4 बदलावों के साथ उतरेगी और पहले मैच के विनिंग काम्बिनेशन में इतना छेड़छाड़ करेगी लेकिन राहुल द्रविड़ टी20 वर्ल्ड कप से पहले अपने सभी खिलाड़ियों को आजमा लेना चाहते हैं। तीसरे और आखिरी टी20 मैच में जब टीम इंडिया उतरेगी तो टीम में फिर बदलाव हो सकती है। दूसरे मैच के बाद रोहित शर्मा ने भी इस बात के संकेत दिए थे। ऐसे में बल्लेबाजी में तो कोई बदलाव नजर नहीं आ रहा लेकिन गेंदबाजी में उमरान मलिक और रवि बिश्नोई जैसे गेंदबाजों को मौका मिल सकता है।

  • ओपनिंग जोड़ी- दूसरे मैच में रोहित और रिषभ पंत ने टीम के लिए ओपनिंग की थी। दोनों ने पहले विकेट के लिए तेजी से 49 रन जोड़े थे। ऐसे में टीम मैनेजमेंट पंत को एक और मौका देना चाहेगी।
  • मध्यक्रम में टीम इंडिया- विराट कोहली की वापसी से फार्म में चल रहे दीपक हुड्डा को दूसरे मैच में बाहर बैठना पड़ा था। तीसरे मैच में भी उनकी वापसी की उम्मीद बेहद कम है। ऐसे में विराट एक अच्छे नोट के साथ इस सीरीज को खत्म करना चाहेंगे। दूसरे मैच में वह असफल रहे थे और केवल 1 रन बनाकर आउट हो गए थे। 4 और 5 नंबर पर क्रमश: सूर्यकुमार यादव और हार्दिक पांड्या हैं।
  • फिनिशर के तौर पर कार्तिक: दूसरे मैच में जब कार्तिक से टीम को रनों की दरकार थी तो दुर्भाग्यवश वह रन आउट हो गए। कार्तिक ने 17 गेंदों पर 12 रन बनाए। ऐसे में यदि उन्हें बल्लेबाजी करने का मौका मिलता है तो वह अपनी छाप छोड़ना चाहेंगे।आलराउंडर के रूप में अक्षर पटेल की जगह रवींद्र जडेजा को ही तरजीह दी जाएगी क्योंकि दूसरे मैच में उन्होंने मुश्किल परिस्थिति मे टीम के लिए 46 रनों का योगदान दिया था।
  • गेंदबाजी में हो सकता है बदलाव: गेंदबाजी में हर्षल पटेल की जगह उमरान मलिक को टीम में शामिल किया जा सकता है। इसके अलावा रवि बिश्नोई को भी मौका दिया जा सकता है। कप्तान ने दूसरे मैच के बाद टीम में बदलाव को लेकर कोच से बात करने की बात कही थी।

टीम इंडिया की संभावित प्लेइंग इलेवन
रोहित शर्मा (कप्तान), विराट कोहली, सूर्यकुमार यादव, हार्दिक पांड्या, दिनेश कार्तिक, रिषभ पंत (विकेटकीपर), रवींद्र जडेजा, भुवनेश्वर कुमार, जसप्रीत बुमराह, उमरान मलिक, रवि बिश्नोई।