नई दिल्ली
 
कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के निजी सचिव पीपी माधवन पर दुष्कर्म का आरोप लगाने वाली पीड़िता ने कहा है कि आरोपी ने उससे सच छुपाया। खुद माधवन के फोन कॉल से ही उसे उनके शादीशुदा होने का पता चला। पीपी माधवन ने पहले खुद को तलाकशुदा बताया था।

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के निजी सचिव पीपी माधवन पर 26 वर्षीय महिला ने दुष्कर्म का आरोप लगाया है। पुलिस ने महिला की शिकायत पर 25 जून को केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। उत्तम नगर थाने में महिला ने शिकायत में बताया है कि माधवन ने नौकरी लगाने और शादी करने का वादा किया था। फिलहाल पुलिस आरोपी की तलाश में छापेमारी कर रही है। पीड़िता के अनुसार 21 जनवरी 2022 को आरोपी ने पीड़िता को इंटरव्यू के लिए सुंदर नगर स्थित एक मकान में बुलाया। आरोप है कि पीड़िता के साथ कई बार दुष्कर्म किया गया।

खुद को बताया था तलाकशुदा, शादी का किया वादा
दरअसल, जांच के दौरान पीड़िता ने पुलिस को दिए गए बयान में बताया है कि पीपी माधवन ने उससे शादी करने का वादा किया था। उन्होंने खुद को तलाकशुदा बताया था। एक दिन पीपी माधवन पीड़िता से फोन पर बात कर रहे थे तो अचानक उन्होंने कहा कि उनकी पत्नी को पीड़िता के बारे में पता चल गया है। पत्नी से इस बात को छिपाने के लिए वह अब फोन में उसका नाम बदलकर लिखेंगे, ताकि उनके इस रिश्ते का खुलासा पत्नी के सामने न हो। हालांकि इस घटना के बाद से पीड़िता ने माधवन का विरोध करना शुरू कर दिया था।