नई दिल्ली
 भारत के 15वें राष्ट्रपति चुने जाने के बाद, वर्तमान राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के नए पड़ोसी बनेंगे। 24 जुलाई को मौजूदा राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद का कार्यकाल समाप्त होने जा रहा है। इसके बाद नए राष्ट्रपति का शपथ ग्रहण समारोह इसके अगले दिन यानी 25 जुलाई को होगा। अब 12 जनपथ में रामनाथ कोविंद रहेंगे। यह आवास लुटियन दिल्ली के सबसे बड़े बंग्लों में से एक है। इस बंगले में लगभग 30 वर्षों तक पूर्व केंद्रीय मंत्री रामविलास पासवान रहा करते थे। 2020 में उनकी मृत्यु के बाद भी उनका परिवार यहां निवास करता रहा, लेकिन हाल ही में उनके बेटे और लोकसभा सांसद चिराग पासवान से यह बंगला खाली करा लिया गया।

12 जनपथ वही ऐतिहासिक बंगला है, जिसमें 2004 में सोनिया पैदल जाकर पासवान से मिलीं थीं और यूपीए के गठन हुआ था। रामनाथ कोविंद जल्द इस बंगले में रहने आ जाएंगे। फिलहाल बंगले में उनके परिवार का सामान लाया जा रहा है। उनके कपड़े व अन्य वस्तुएं आने का सिलसिला जारी है।

घर में पुराने फर्नीचर में बदलाव किया जा रहा है। वहीं जो फर्नीचर खराब हो गया है उसको भी सुधारा जाने लगा है।

बंगले में पेंट भी किया जा रहा है, सुरक्षाकर्मियों के लिए कमरे में भी बदलाव हो रहा है। वहीं सुरक्षा के मद्देनजर घर के चारों ओर कटीले तार लगा दिए गए हैं

राष्ट्रपति का पद छोड़ने के बाद महामहिम को कई तरह की सरकारी सुविधाएं मिलेंगी, जो पूरी जिंदगी जारी रहेंगी। यही नहीं, राष्ट्रपति की पत्नी सविता कोविंद को भी 30 हजार रुपए की सहायता राशि का भुगतान किया जाएगा। इस तरह पद से हटने के बाद वे और उनकी पत्नी कई तरह की सरकारी सुविधाओं की हकदार रहेंगी।