बूंदी
उदयपुर में नूपुर शर्मा के समर्थन में पोस्ट की वजह से कन्हैयालाल की हत्या के बाद राजस्थान पुलिस हरकत में आ गई है। पुलिस की मौजूदगी में जहर उगलने वाले मौलाना मुफ्ती नदीम अख्तर को 28 दिन बाद गिरफ्तार किया गया है। आरोपी मौलवी ने नूपुर शर्मा की ओर से पैगंबर पर की गई टिप्पणी के बाद बूंदी में आयोजित विरोध प्रदर्शन के दौरान भड़काऊ भाषण दिया था।

पुलिस ने आरोपी के खिलाफ केस दर्ज कर लिया था, लेकिन अब तक वह पुलिस की गिरफ्त से बचा हुआ था। उदयपुर में कन्हैया की हत्या के बाद उपजे तनाव के बीच पुलिस ने मौलाना नदीम को गिरफ्तार कर लिया है। मौलवी ने पुलिसकर्मियों की मौजूदगी में काफी भड़काऊ बयानबाजी की थी। मौलाना का वीडियो वायरल होने के बाद भारतीय जनता पार्टी समेत कई हिंदू संगठनों ने गहलोत सरकार को घेरना शुरू कर दिया था। सवाल उठाया जा रहा था कि पुलिस की मौजूदगी में कोई इस तरह की बयानबाजी करके कैसे चला जाता है। उसकी गिरफ्तारी में देरी को लेकर लगातार सवाल उठाए जा रहे थे।