मुंबई
 महाराष्ट्र के नए मुख्यमंत्री एकनाथ शिंदे की बगावत के झटके के बाद अब शिवसेना ने संसदीय राजनीति के लिहाज से एक अहम फैसला लिया है। शिवसेना ने लोकसभा में भावना गवली की जगह राजन विचारे को चीफ विप बनाया है। गौरतलब है कि एकनाथ शिंदे के विद्रोह के बाद भावना गवली ने शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे को एक पत्र लिखा था। उन्होंने उद्धव ठाकरे को पत्र लिख कर कहा था कि शिवसेना को कांग्रेस-एनसीपी का साथ छोड़ कर बीजेपी के साथ सरकार बनानी चाहिए।

शिवसेना के राज्यसभा सांसद संजय राउत की ओर से संसदीय कार्य मंत्री प्रह्लाद जोशी को पत्र लिखा गया है। इसमें उन्होंने कहा है कि राजन विचारे को तत्काल प्रभाव से भावना गवली की जगह लोकसभा में शिवसेना का चीफ विप नियुक्त किया गया है। भावना गवली की उद्धव ठाकरे को चिट्ठी के बाद से ही चर्चा थी कि शिवसेना के 12 सांसद भी बगावत कर सकते हैं।

चीफ विप बदलने के पीछे ये वजह?
इनमें सबसे आगे भावना गवली का नाम आ रहा था। माना जा रहा है कि इसी के चलते शिवसेना ने उन्हें लोकसभा में चीफ विप पद से हटा दिया है। ठाणे से शिवसेना सांसद राजन विचारे को उनकी जगह नियुक्त किया गया है। अब देखना होगा कि भावना इस पर क्या प्रतिक्रिया देती हैं।

शिवसेना सांसद ने लिखा उद्धव को खत
इससे पहले मंगलवार को मुंबई से शिवसेना सांसद राहुल शेवाले ने भी उद्धव ठाकरे को एक पत्र भेजा था। इसमें राहुल शेवाले ने एनडीए की राष्ट्रपति पद की उम्मीदवार द्रौपदी मुर्मू का समर्थन करने की गुहार लगाई थी।