चिया सीड्स, फैल्कस सीड्स की तरह ही कद्दू के बीज का इस्तेमाल तेजी से बढ़ा है। कद्दू का बीज कई तरह के पोषकतत्वों से भरपूर होते हैं। वजन कम करने से लेकर त्वचा की देखभाल में कद्दू के बीज अहम भूमिका निभाते हैं। इसलिए आपको इसे किसी ना किसी रूप में इसे अपने आहार में शामिल करना चाहिए। आइए बताते हैं कद्दू के बीज में मिलने वाले पोषक तत्व और फायदें।

कद्दू यानी बटरनट स्कैवॉश के अंदर कद्दू के बीज मौजूद होते हैं। जिसे निकालकर लोग साफ करके सूखा देते हैं। इसे स्टोर करके भी रख सकते हैं। बाजार में भी कद्दू के बीज बोतलबंद डिब्बे में मौजूद हैं। न्यूट्रीनिस्ट की मानें तो कद्दू के बीज एंटी-ऑक्सिडेंट से भरे होते हैं। मैग्नीशियम, जिंक, फाइबर, स्वास्थ वसा से भरपूर होते हैं। यह शरीर में सूजन कम करते हैं। इसके अलावा टाइप 2 डायबिटीज वाले लोगों में शुगर  लेवल को कंट्रोल करने में मदद करता है।

बालों और त्वचा में ग्लो लाता है
कद्दू के बीज त्वचा के साथ-साथ बालों के लिए भी फायदेमंद होते हैं। इसमें कुकुर्बिटासिन नामक यौगिक होता है। इसके अलावा एमिनो एसिड है जो बालों की ग्रोथ को बढ़ावा देता है। इसके अलावा कई और पोषक तत्व पाए जाते हैं जो बालों को चमकदार बनाए रखने में मदद करता है। साथ ही इसमें विटामिन ई और कैरोटेनॉयड्स जैसे एंटी ऑक्सीडेंट मौजूद होता जो त्वचा में की फ़्लैक्सिबिलिटी बनाए रखने के लिए कोलेजन को बढ़ाता है। जिससे स्किन हेल्दी होते हैं।

वजन कम करने में करता है मदद
कद्दू के बीज से वजन कम होता है। न्यूट्रीनिस्ट  की मानें तो कद्दू के बीज खाने से स्वस्थ रूप से वजन घटा सकते हैं। हालांकि मात्रा का ध्यान रखना जरूरी है। क्योंकि यह ऊर्जा से भरपूर होते हैं। इसलिए अनसॉल्डेट बीजों का चुनाव करना चाहिए। कद्दू के बीज में कैलोरी हाई होता है। वे प्रोटीन से भरपूर होते हैं। इसलिए कम मात्रा में लें।

नींद की गुणवत्ता को बढ़ाता है
डॉक्टर की मानें तो इसे डेली डाइट में शामिल करने से अनिंद्रा की शिकायत को दूर करता है। अगर नींद की समस्या से आप ग्रसित हैं जो सोने जाने से पहले कद्दू के बीज को खाएं। इससे नींद आने में मदद मिलेगी। कद्दू के बीज ट्रिप्टोफैन का एक प्राकृतिक स्त्रोत है। जो अमिनो एसिड है।

ऐसे करें आहार में शामिल
कद्दू के बीज को नाश्ते में लें। इससे आपके अंदर स्फूर्ती आएगी। इसे आप स्नैक के रूप में भी ले सकते हैं। सलाद में डालकर इसके स्वाद में और इजाफा कर स कते हैं। बेकिंग रेसिपी में भी इसे शामिल कर सकते हैं। स्मूदी में भी इसे डालकर ले सकते हैं।