भोपाल
 नये राष्ट्रपति के चयन के लिए आज मध्यप्रदेश विधानसभा के सभी 230 विधायकों ने मतदान किया। सबसे पहला वोट विधानसभा अध्यक्ष गिरीश गौतम ने और दूसरा वोट मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने डाला। मतदान सम्पन्न होंने के बाद विधानसभा प्रमुख सचिव एपी सिंह पुख्ता सुरक्षा व्यवस्था के बीच मतपेटी लेकर दिल्ली रवाना हो गए। मतपेटी रात में ही भारत निर्वाचन आयोग के पास जमा कराई जाएगी।

सुबह दस बजे वे वोटिंग शुरु हुई तो मंत्री उषा ठाकुर सबसे पहले पहुंच गई। उनके बाद नेता प्रतिपक्ष गोविंद सिंह पहुंचे। अध्यक्ष और सीएम के बाद तीसरा वोट पर्यटन एवं संस्कृति मंत्री उषा ठाकुर ने डाला।  भाजपा के 127, कांग्रेस के 96, बसपा के दो, सपा के एक और चार निर्दलीय विधायकों ने मतदान किया। सबसे अंतिम वोट प्रताप सिंह ग्रेवाल ने डाला। बसपा विधायक रामबाई ने कहा कि उन्होंने द्रोपती मुर्मू के पक्ष में मतदान किया है। संसदीय कार्यमंत्री नरोत्तम मिश्रा ने बताया कि एनडीए उम्मीदवार द्रोपती मुर्मू के पक्ष में सभी भाजपा विधायकों ने मतदान किया है।

सचिन बिरला पर सस्पेंस
कांग्रेस विधायक सचिन बिरला चुपके से आकर वोट डाल कर चले गए। कांग्रेस उनके वोट को माइनस करके चल रही है। कांग्रेस के शेष 95 विधायकों और निर्दलीय सुरेन्द्र सिंह शेरा , केदार सिंह डाबर के कांग्रेस उम्मीदवार यशवंत सिन्हा के पक्ष में मतदान करने की संभावना है। इधर बसपा, सपा के तीन उम्मीदवार और दो निर्दलीय उम्मीदवारों के भाजपा उम्मीदवार द्रोपती मुर्मू के पक्ष में मतदान करने की संभावना है।