लखनऊ
 केन्द्रीय चुनाव आयोग के निर्देश पर उत्तर प्रदेश विधानसभा भवन में राष्ट्रपति चुनाव की तैयारी शुरू कर दी गई हैं। आगामी 18 जुलाई को सुबह 10 बजे से शाम पांच बजे तक चुनाव के लिए विधान भवन के तिलक हॉल में मतदान होगा। प्रदेश के पांच विधायक राज्य से बाहर मतदान करेंगे। इसके लिए चुनाव आयोग ने उन्हें अनुमति दे दी है।

इस चुनाव को सकुशल सम्पन्न करवाने के लिए प्रदेश विधानसभा के विशेष सचिव बृजभूषण दुबे और संयुक्त सचिव अजीत कुमार शर्मा को सहायक रिटर्निंग आफिसर नियुक्त किया गया है। सहायक रिटर्निंग आफिसर दुबे ने बताया कि चार विधायक मुकेश चौधरी, प्रदीप सिंह, जियाउर्रहमान, ब्रजभूषण राजपूत ने संसद में वोट डालने की अनुमति मांगी थी। उन्हें संसद में वोट डालने की अनुमति दे दी गई है जबकि नील रत्न पटेल केरल विधानसभा में वोट डालेंगे।

उन्होंने बताया कि विधायकों को वोट डालने के लिए एक विशेष कलम दिया जाएगा। उन्हें इसी से वोट डालना होगा। उन्हें वोट डालने से पहले एक पर्ची दी जाएगी। प्रिफ्ररेंस भरने में उन्हें टिक नहीं करना होगा बल्कि पहले प्रिफ्रेंस के लिए एक या दूसरे प्रिफ्रेंस के लिए दो को शब्दों में लिखना होगा न कि संख्या में..। उन्होंने बताया कि सभी विधायकों को जरूरी गाइडलाइन भेज दी गई है।