भोपाल
भाजपा के मंत्रीमंडलीय चुनाव चिंतन में भाजपा के जुमला जनाधार की पोल खुल गई है। कांग्रेस मीडिया उपाध्यक्ष भूपेन्द्र गुप्ता ने लोकनिर्माण मंत्री गोपाल भार्गव के उस बयान को सत्यात्मक विश्लेषण बताया है जिसमें उन्होंने स्वीकार किया है कि प्रत्येक विधानसभा क्षेत्र में भाजपा का 20% जनाधार खिसक गया है।

गुप्ता ने कहा कि बहुमत होने से आम जनता पर मंहगाई,टेक्स थोपने और बेरोजगारों से छल करने का लायसेंस नहीं मिलता। गुप्ता ने कहा कि कमलनाथ सरकार ने 15महीने के छोटे से कार्यकाल में प्रदेश को दिशा दी और जनता का दिल जीता जो भाजपा आज 17साल में भी नहीं जीत पाई।

गुप्ता ने कहा कि निर्विरोध पंचायतों के नाम पर प्रशासन पुलिस और पैसे की धमक से लोगों को लोकतांत्रिक प्रक्रिया से बाहर करने का जो नया छलावा भाजपा ने शुरू किया है, उससे नैसर्गिक और स्वाभाविक नेतृत्व को जनमत से बाहर किया जा रहा है, जिससे देश में नेतृत्व हीनता पैदा होगी और थोपे हुए लोग नई सामंतशाही पैदा करेंगे।

 गुप्ता ने कहा कि जब भाजपा को यह समझ आ ही गया है कि उसके 20% वोट खिसक गये हैं तो वह जनता को डर दिखाना बंद कर दे ताकि 'दमरस' नहीं 'जनरस' नेतृत्व सामने आये।