भोपाल
प्रदेश में पंचायत चुनाव (MP panchayat election) के तीसरे चरण (Third phase Voting) की तैयारी पूरी कर ली गई है। इस तीसरे चरण के चुनाव के लिए 39 जिले के दौरान 92 विकासखंड में आज  मतदान शुरू । जिसमें एक करोड़ 13 लाख मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग करेंगे। सुबह 7:00 बजे से मतदान की प्रक्रिया शुरू। इसके लिए भारी पुलिस बल की तैनाती सहित संवेदनशील मतदान केंद्र पर नजर रखने के कड़े निर्देश दिए गए हैं।

राज्य निर्वाचन आयुक्त बसंत प्रताप सिंह ने बताया है कि त्रि-स्तरीय पंचायत आम निर्वाचन-2022 के तीसरे एवं अंतिम चरण का मतदान 8 जुलाई को सुबह 7 से दोपहर 3 बजे तक होगा। मतदान के तुरंत बाद मतदान केन्द्र में ही मतगणना की जायेगी। शांति पूर्ण मतदान के लिए सभी तैयारियाँ पूरी कर ली गयी है। तीसरे चरण के मतदान में 40 हजार से अधिक पुलिस बल की ड्यूटी लगायी गयी है।

39 जिलों के 92 विकासखंड में होगा मतदान

तीसरे चरण में 39 जिलों के 92 विकासखंड की 6607 ग्राम पंचायत में मतदान होगा। मतदान के लिए 20 हजार 608 मतदान केन्द्र बनाये गए हैं। इनमें से 3 हजार 59 मतदान केन्द्र संवेदनशील हैं। तीसरे चरण में जिला पंचायत सदस्य के 243, जनपद पंचायत सदस्य के 1955, सरपंच के 6607 और पंच के 1 लाख 5 हजार 293 पद है। इनमें से कुछ पदों पर निर्विरोध निर्वाचन से जिला पंचायत सदस्य के 242, जनपद पंचायत सदस्य के 1916, सरपंच के 6408 और पंच के 22378 पद के लिए निर्वाचन होगा।

पंच के 14 हजार 699 पदों पर कोई नाम-निर्देशन पत्र प्राप्त नहीं है। तीसरे चरण में एक करोड़ 13 लाख 11 हजार 479 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग कर सकेंगे। इनमें से 58 लाख 36 हजार 623 पुरूष, 54 लाख 74 हजार 592 महिला एवं 264 अन्य मतदाता हैं।

आयुक्त राज्य निर्वाचन आयोग बसंत प्रताप सिंह =ने जानकारी दी है किजिला राजगढ़ में विकासखंड नरसिंहगढ़, सारंगपुर, जिला रायसेन में साँची, औबेदुल्लागंज, जिला सीहोर में आष्टा, बुदनी, जिला विदिशा में कुरवाई, ग्यारसपुर, लटेरी, जिला खरगोन में भीकनगांव, कसरावद, गोगाँव, खरगोन, जिला खंडवा में पंधाना, छैगाँवमाखन, जिला धार में सरदारपुर, नालछा, धार, तिरला, जिला अलीराजपुर में सोंडवा, उदयगढ़, जिला बड़वानी में पाटी, बड़वानी, जिला गुना में आरौन में मतदान होगा।

जिला शिवपुरी में पोहरी, करेरा, शिवपुरी, जिला अशोकनगर में मुंगावली, चंदेरी, जिला छिंदवाड़ा में मोहखेड़, जुन्नारदेव, चौरई, जिला सिवनी में केवलारी, छपारा, कुरई, जिला बालाघाट में बालाघाट, लालबर्रा, बिरसा, जिला मंडला में नारायणगंज, निवास, बीजाडांडी, जिला डिंडौरी में समनापुर, बजाग, करंजिया, जिला कटनी में बहोरीबंद, रीठी में मतदान होगा। जिला उज्जैन में महिदपुर, तराना, जिला नीमच में मनासा, जिला रतलाम में रतलाम, जावरा, पिपलोदा, जिला शाजापुर में शुजालपुर, कालापीपल, जिला आगरमालवा में सुसनेर, नलखेड़ा, जिला मंदसौर में गरोठ, मल्हारगढ़, जिला सागर में राहतगढ़, खुरई, शाहगढ़, जैसीनगर, जिला छतरपुर में नौगांव, लवकुशनगर, बिजावर में मतदान होगा।

जिला दमोह में तेंदुखेड़ा, बटियाँगढ़, पटेरा, जिला टीकमगढ़ में जतारा, जिला रीवा में सिरमौर, जवा, त्यौथर, जिला सिंगरौली में चितरंगी, जिला सीधी में सीधी, जिला सतना में रामपुर बघेलान, मैहर, जिला नर्मदापुरम में नर्मदापुरम, माखननगर, बनखेड़ी, जिला बैतूल में प्रभातपट्टन, भैंसदेही, भीमपुर, जिला शहडोल में पाली नं 1 गोहपारू, बुड़ार, जिला अनूपपुर में अनूपपुर, कोतमा, जिला भिंड में महगाँव, गोहद, जिला श्योपुर में विजयपुर और जिला मुरैना में विकासखंड सबलगढ़, कैलारस तथा पहाड़गढ़ में मतदान होगा।

इससे पहले राज्य निर्वाचन आयोग ने सभी कलेक्टर एवं जिला निर्वाचन अधिकारियों को निर्देशदिया है कि वे अपने जिले के अन्तर्गत मध्यप्रदेश स्थानीय प्राधिकरण (निर्वाचन अपराध) अधिनियम, 1964 यथासंशोधित 2014 के उल्लंघन के प्रत्येक प्रकरण में अधिनियम के अंतर्गत कार्यवाही की जाना सुनिश्चित करें। आयोग सचिव राकेश सिंह ने बताया कि आयोग को प्रतिबंधित 48 घण्टे की अवधि में अभ्यर्थियों के पक्ष में निर्वाचन अपील संबंधी शिकायतें प्राप्त हुई हैं। जिसपर अंकुश आवश्यक है।

सचिव राकेश सिंह ने बताया कि आयोग ने यह निर्देश मध्यप्रदेश स्थानीय प्राधिकरण (निर्वाचन अपराध) संशोधन अधिनियम, 2014 द्वारा मध्यप्रदेश स्थानीय प्राधिकरण (निर्वाचन अपराध) अधिनियम, 1964 में संशोधन कर धारा-3 में मतदान की समाप्ति के लिये नियत किये गये समय के साथ समाप्त होने वाली 48 घण्टों की कालावधि के दौरान सार्वजनिक सभाओं आदि के प्रतिषेध के अंतर्गत दिया है।

स्पष्ट प्रावधान के मुताबिक मतदान की समाप्ति के लिए नियत किये गये समय के साथ समाप्त होने वाले 48 घण्टों की कालावधि के दौरान चलचित्र, इलेक्ट्रॉनिक या प्रिन्ट मीडिया या किसी अन्य साधन से जनता के समक्ष किसी निर्वाचन संबंधी बात का संप्रदर्शन नहीं करेगा।