भोपाल
पंचायत चुनाव के दूसरे चरण के मतदान में हुई हिंसा ने पुलिस मुख्यालय को सतर्क कर दिया है। अब सुरक्षा को लेकर पुलिस मुख्यालय 6 जुलाई और 8 जुलाई को होने वाले मतदान में पुलिस बल को इधर से उधर करने में अपने पूर्व प्लान को बदल कर और तेजी से मूवमेंट करवाएगा। दूसरे चरण के मतदान के बाद मतदान दल पर हमला होने के चलते ही दल की सुरक्षा को लेकर भी पुलिस मुस्तैद रहेगी।

एक जुलाई को हुए पंचायत चुनाव के दूसरे चरण के मतदान की समीक्षा के बाद पुलिस मुख्यालय ने पाया कि पुलिस बल को सात जुलाई की सुबह ग्रामीण इलाकों के मतदान केंद्र और संवेदनशील क्षेत्रों में तैनात कर दिया जाए। इसलिए पुलिस बल को 6 जुलाई की रात में ही मूवमेंट करवाया जाएगा। दरअसल प्रदेश में नगरीय निकाय चुनाव का पहला चरण 6 जुलाई को है। इसमें भी भारी पुलिस बल तैनात किया जाएगा।

कई ऐसे जिले हैं जिनमें पंचायत चुनाव का मतदान पूरा हो चुका है, लेकिन नगरीय निकाय का मतदान होना है। ऐसे में इन जिलों में नगरीय निकाय चुनाव का मतदान होते ही रात में ही दूसरे जिले के लिए बल को भेजा जाएगा। पुलिस रेंज में आईजी इस मूवमेंट पर पूरी समय नजर रखेंगे। वे ऐसे बल को अपनी ही पुलिस रेंज में तैनात करेंगे। आसपास के जिलों में बल को भेजा जाएगा। इसके साथ ही पुलिस अधीक्षक भी ग्रामीण क्षेत्रों में सात जुलाई को ही निरीक्षण करने के लिए जाएंगे। आठ जुलाई को वे पूरा समय मतदान वाले क्षेत्रों में ही रहेंगे।