बर्मिंघम

इंग्लैंड के खिलाफ एजबेस्टन टेस्ट मैच के पहले दिन भारतीय टीम अपनी पहली पारी में सात विकेट पर 338 रन बनाने में कामयाब रही. पहले दिन स्टंप के समय रवींद्र जडेजा 83 और मोहम्मद शमी शून्य रन बनाकर क्रीज पर डटे थे. अब भारत की कोशिश दूसरे दिन स्कोर बोर्ड पर कुछ और रन जोड़ने की होगी ताकि मेजबान टीम पर प्रेशर बनाया जा सके. बारिश के कारण  पहले दिन 73 ओवर्स का ही खेल हो पाया.

मुकाबले में टॉस हारकर बैटिंग करने उतरी भारतीय टीम की शुरुआत कुछ खास नहीं रही थी और उसने 100 रनों के भीतर अपने पांच विकेट गंवा दिए थे. ऐसे में विकेटकीपर ऋषभ पंत और रवींद्र जडेजा ने छठे विकेट के लिए 222 रनों की शानदार साझेदारी कर भारत की वापसी कराई. पंत ने 111 गेंद में 20 चौकों और चार छक्कों की मदद से 146 रनों की ताबड़तोड़ पारी खेली. जबकि रवींद्र जडेजा ने अबतक 163 गेंदों का सामना किया है और वह कुल 10 चौके लगा चुके हैं.

जैक लीच की जमकर धुनाई

पंत और जडेजा ने चायकाल के बाद ताबड़तोड़ अंदाज में बैटिंग की. पंत ने स्पिन गेंदबाज जैक लीच पर ज्यादा ही मेहरबानी दिखाई और उनकी गेंदों पर कुछ बड़े शॉट्स लगाए. पंत ने शतक सिर्फ 89 गेंद में पूरा किया जो किसी भारतीय विकेटकीपर का सबसे तेज टेस्ट शतक है. शतक लगाने के बाद तो पंत ने और ज्यादा आक्रामक शैली में बैटिंग किया.

पंत हालांकि दुर्भाग्यशाली रहे कि वह 150 रनों के आंकड़े तक नहीं पहुंच सके. पंत को जो रूट ने जैक क्राउली के हाथों लपकलावाया. पंत के आउट होने के बाज शार्दुल ठाकुर क्रीज में बैटिंग करने आए. लेकिन शार्दुल महज एक रन बनाकर चलते बने. शार्दुल को बेन स्टोक्स ने विकेटकीपर सैम बिलिंग्स के हाथों कैच आउट कराया.

एंडरसन ने दिए शुरुआती झटके

पहले सेशन में जेम्स एंडरसन ने सलामी बल्लेबाज शुभमन गिल (17 रन) और चेतेश्वर पुजारा ( 13 रन) को दूसरी स्लिप में जाक क्रॉली के हाथों लपकवाकर इंग्लैंड को सफलता दिलाई. एंडरसन ने जहां पुजारा को उनके करियर में 12वीं बार आउट किया, वहीं गिल को तीसरी बार आउट किया. पुजारा के आउट होने के बाद हनुमा विहारी और विराट कोहली पर बड़ी साझेदारी करने की जिम्मेदारी थी, लेकिन दोनों ही खिलाड़ी कुछ खास नहीं कर पाए.

कोहली-अय्यर-विहारी भी रहे फ्लॉप

हनुमा विहारी मैटी पॉट्स की अंदर आती हुई गेंद पर चकमा खा गए और गेंद पैड पर जा टकराई. विहारी के आउट होने के कुछ देर बाद स्टार बैटर विराट कोहली भी चलते बने. विराट कोहली (11 रन) ऑफ-स्टंप के बाहर जाती गेंद को छोड़ना चाहते थे, लेकिन बॉल बैट का किनारा लेकर विकेट्स पर जा लगी. इसके बाद आउट होने की बारी श्रेयस अय्यर (15 रन) की थी. श्रेयस को जेम्स एंडरसन ने एक शॉर्ट पिच गेंद पर विकेटकीपर सैम बिलिंग्स के हाथों कैच आउट कराया.

अंग्रेजों को चखाई उन्हीं की कड़वी दवा
ऋषभ पंत ने अपनी छोटी, लेकिन ताबड़तोड़ पारी के दौरान 19 चौके और 4 छक्के उड़ाए। रविंद्र जडेजा ने 10 चौके मारकर सभी को सन्न कर दिया। ऋषभ ने शुरुआत में थोड़ा संभलकर खेला और फिर अपने परिचित अंदाज में इंग्लिश बॉलर्स पर अटैक कर दिया। बाएं हाथ के स्पिनर जैक लीच का स्वागत दो फोर और एक सिक्स के साथ किया। जडेजा ने भी लीच और पॉट्स पर खूब रन बटोरे।

बुमराह कर रहे टीम की कप्तानी

इस मुकाबले में भारतीय टीम की कप्तानी जसप्रीत बुमराह के हाथों में है. गौरतलब है कि रोहित शर्मा कोविज-19 की चपेट में आ जाने के चलते इस मुकाबले से बाहर हो गए थे. अगर भारतीय टीम एजबेस्टन टेस्ट मैच में ड्रॉ या जीत हासिल कर लेती है तो वह टेस्ट सीरीज पर कब्जा कर लेगी. भारत ने साल 2007 में राहुल द्रविड़ की कप्तानी में इंग्लैंड में आखिरी बार सीरीज जीती थी.