धार
जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के सचिव/जिला न्यायाधीश श्री सचिन कुमार घोष द्वारा जिला जेल  का  निरीक्षण किया गया। निरीक्षण में बंदियों को प्रदान की जाने वाली भोजन सामग्री, भोजन कक्ष एवं बंदी वार्ड का निरीक्षण किया गया। निरीक्षण के उपरांत जिला जेल में विधिक साक्षरता शिविर का आयोजन किया गया। इस अवसर पर श्री घोष ने जेल में बंदियों को निःशुल्क विधिक सहायता सहित उनके मौलिक अधिकारों व विभिन्न कानूनी प्रावधानों की जानकारी दी गई।

बंदियों को उनके विरुद्ध लंबित राजीनामा योग्य प्रकरणों के आगामी नेशनल लोक अदालत में राजीनामा के माध्यम से निराकरण किए जाने संबंधी जानकारी के साथ-साथ प्ली-बारगेनिंग के प्रावधान एवं उसके महत्व के संबंध में जानकारी भी दी गई। उन्होंने बंदियों के लिए चलाए जा रहे पाठशाला का निरीक्षण भी किया गया तथा पाठशाला में पढ़ रहे बंदियों को शिक्षित होकर समाज के उत्थान में सहयोग करने के लिए प्रेरित किया। निरीक्षण के समय जेल अधीक्षक श्री आर. आर. दांगी भी उपस्थित रहे।