श्रीगंगानगर
 भारतीय जनता पार्टी (भाजप) की पूर्व प्रवक्ता नूपुर शर्मा की हत्या करने के लिए पाकिस्तान से एक घुसपैठिया भारत पहुंचा था। राजस्थान के श्रीगंगानगर जिले में अंतरराष्ट्रीय सीमा के पास सीमा सुरक्षा बल के जवानों ने हाल ही में 24 साल के एक पाकिस्तानी नागरिक को पकड़ा था। इस शख्स की पहचान रिजवान अशरफ के तौर पर हुई थी। उस वक्त यह जानकारी भी मिली थी कि यह शख्स हिंदूमलकोट सेक्टर में खखां चेक पोस्ट से देश की सीमा में घुसने की कोशिश कर रहा था। पाकिस्तान में पंजाब के मंडी बहाव बीन के रहने वाले अशरफ के बारे में अब चौंकाने वाले खुलासे हो रहे हैं।

खौफनाक थी मंशा..
अशरफ के भारत में घुसने के पीछे की मंशा बेहद खतरनाक थी। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, बीएसएफ की पूछताछ में खुलासा हुआ है कि यह घुसपैठिया बीजेपी की निलंबित नेता नूपुर शर्मा की  हत्या करना चाहता था। पैगम्बर मोहम्मद को लेकर नूपुर शर्मा द्वारा दिये गये बयान से अशरफ आहत था।

अजमेर दरगाह जाना चाहता था
यह भी अंदेशा जताया जा रहा है कि भारत में घुसने के बाद अशरफ श्रीगंगानगर से अजमेर दरगाह जाना चाहता था। यहां चादर चढ़ाने के बाद उसने नूपुर शर्मा की हत्या का प्लान बनाया था। 8वीं क्लास तक पढ़ा अशरफ उर्दू, पंजाबी और हिंदी भाषा जानता है। हालांकि, उसके पास से हथियार नहीं मिले हैं। कहा जा रहा है कि नूपुर शर्मा के बयान के बाद पाकिस्तान में मौलवियों ने एक बैठक की थी। इस बैठक में अशरफ रिजवान भी शामिल हुआ था। इस बैठक के बाद ही उसने नूपुर शर्मा की हत्या करने का इरादा बना लिया था। बहरहाल अब सीमा सुरक्षा बल के जवान पकड़े गये इस घुसपैठिये से आगे की पूछताछ कर रहे हैं। जिसके बाद अब कई और खुलासे भी हो सकते हैं।