नई दिल्ली

 14 जून को केंद्र सरकार ने भारतीय सेना में भर्ती की नई योजना अग्निपथ स्कीम को लॉन्च किया था। इस स्कीम के तहत इंडियन आर्मी, नेवी और एयरफोर्स में बहाली की प्रक्रिया शुरू की गई थी। चार साल की नौकरी वाली जब इस स्कीम की घोषणा की गई तो पूरे देश में इसके खिलाफ जमकर विरोध-प्रदर्शन हुआ। दर्जनों ट्रेनें जला दी गई, हाईवे- रेलवे ट्रैक को जाम कर छात्रों ने जमकर बवाल किया। लेकिन समय के साथ युवाओं का गुस्सा शांत हुआ और फिर अग्निपथ स्कीम के तहत निकाली गई भर्ती में बढ़चढ़ कर युवाओं ने आवेदन किया।

भारतीय नौसेना (Indian Navy) ने अग्निपथ स्कीम के पहले चरण के तहत 2800 पद के लिए अग्निवीरों की भर्ती निकली थी। इंडियन नेवी के एक अधिकारी ने बताया कि अग्निपथ स्कीम के तहत निकाली गई भर्ती में अभी तक तीन लाख से अधिक आवेदन मिल चुके है। जिसमें 20 हजार से अधिक महिला अभ्यर्थियों के आवेदन भी मिले है। अधिकारी ने बताया कि पहले फेज के लिए शुक्रवार तक कुल 3,03,328 आवेदन प्राप्त हुए है। 20499 महिला अभ्यर्थियों ने भी अग्निवीर बनने के लिए आवेदन किया है।

12वीं पास अभ्यर्थी के लिए कल आखिरी मौका-
बताते चले कि इंडियन नेवी में अग्निपथ स्कीम के
तहत रजिस्ट्रेशन की प्रक्रिया एक जुलाई से शुरू हुई थी। इसमें 12वीं पास अभ्यर्थी 24 जुलाई तक अपना रजिस्ट्रेशन करा सकते है। जबकि मैट्रिक पास अभ्यर्थी 30 जुलाई तक अपना रजिस्ट्रेशन करा सकते हैं। भारतीय नौसेना के एक अधिकारी ने बताया कि अग्निपथ स्कीम के तहत निकाली गई भर्ती में युवाओं का रिस्पांस काफी अच्छा मिल रहा है। युवा अग्निवीर के रूप में भारतीय सेना के साथ काम करने को काफी उत्साहित नजर आ रहे हैं।