भोपाल
मध्य प्रदेश के पथरिया से बसपा विधायक रामबाई ने हाल शिक्षक बनकर प्रदेश के शिक्षा विभाग की पोल खोली। और साथ ही इसके उनकी क्लास भी लगा दी। रामबाई शिक्षक बनकर अपनी विधानसभा के आदर्श ग्राम जेरठ में पहुंची थी यह गांव सांसद द्वारा गोद लिया गया है। यहां के शासकीय उच्चतर माध्यमिक विद्यालय पहुंची।
विद्यालय पहुंच कर छात्रों से देश के प्रधानमंत्री और मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री का नाम पूछ। लेकिन बच्चों को इन दोनों ही सवालों के जवाब नहीं पता थे। इससे रामबाई काफी नाराज हो गई और स्कूल के शिक्षकों की जमकर क्लास लगाई।
दरअसल, रामबाई ने हायर सेकेंडरी स्कूल के छात्रों  से पूछा कि, देश के राष्ट्रपति कौन हैं? पर छात्र जवाब नहीं दे पाया। फिर पूछा कि देश का प्रधानमंत्री कौन है? इस सवाल का जवाब सिर्फ एक छात्रा दे पाई। इस बात से खुश होकर विधायक ने  छात्रा को बतौर प्रोत्साहन राशि 500 रुपये दिए। विधायक ने तीसरा सवाल पूछा मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री का नाम क्या है, लेकिन फिर कोई भी छात्र नाम नहीं बता पाया। जिसके बाद रामबाई ने स्कूल के शिक्षकों की क्लास लगाई।
वहीं क्लास लेते हुए रामबाई ने स्कूल में  उपस्थित शिक्षकों से कहा यह  कैसी पढ़ाई करवा रहे हैं आप लोग। स्कूल के बच्चें साधारण से सवालों के जवाब नहीं दे पा रहे हैं। उन्हें पढ़ाई के अतिरिक्त सामान्य ज्ञान की जानकारी तो होना चाहिए।
रामबाई ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से मांग करते हुए कहा कि सरकारी स्कूलों में शिक्षा का स्तर सुधारा जाए। और यहां जो कमियां हैं उन्हें पूरा किया जाए। जिससे बच्चें प्राइवेट स्कूलों को छोड़ सरकारी स्कूलों में पढ़ें। उनहोनर बताया कि कक्षा 9वीं और 12वीं के बच्चों को राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री का नाम तक नहीं पता हैं। सिर्फ 11वीं कक्षा की एक छात्रा ही सवाल का जवाब दें पाई है।