हरदा
 पूरे मध्यप्रदेश में मानसून के सक्रिय होते ही बारिश ने अपना असर दिखाना शुरू कर दिया है और अब कई जिलों में जलप्लावन की स्थिति बन गई है, वही हरदा में भी भारी बारिश के चलते बस्तियों और कालोनियों में जलभराव की स्थिति बन गई है, लोगों के घरों में पानी घुस गया है, वही निचले इलाकों में हालात और ज्यादा बिगड़े हुए है, हरदा नगर की निचली बस्तियों में जलभराव की स्थिति और वहा फंसे लोगों के लिए राहत कार्य के लिए कृषि मंत्री कमल पटेल ने जिला प्रशासन को निर्देश दिए है।

मंत्री पटेल ने ट्वीट करते हुए कहा कि चुनाव आचार संहिता का पालन करते हुए जनता की हर संभव मदद करने का प्रयास जिला प्रशासन और पार्टी के कार्यकर्ता कर रहे हैं। पीड़ित लोगों को घबराने की जरूरत नहीं है। भोजन और रहने की समुचित व्यवस्था जिला प्रशासन द्वारा की जा रही है। संकट की इस घड़ी में सरकार उनके साथ है। वही इसके साथ ही कृषि मंत्री कमल पटेल हरदा पहुंचे और नगर की निचली बस्तियों में जलभराव की स्थिति और राहत कार्यों के साथ प्रभावित परिवारों से मुलाकात भी की। कृषि मंत्री कमल पटेल ने हरदा नगर की निचली बस्तियों में जलभराव की स्थिति को देखते हुए राहत कार्यों में कोई भी कमी ना होने के निर्देश अधिकारियों को दिए इसके साथ ही कार्यकर्त्ताओ को भी लोगों की मदद के लिए अपील की, वही मंत्री कमल पटेल खुद हरदा की उन निचली बस्तियों में पहुंचे जहां भारी बारिश के चलते जलप्लावन की स्थिति बनी हुई है, मंत्री कमल पटेल ने इस दौरान प्रभावित परिवारों से मुलाकात भी की और उन्हे आश्वासन दिया।