भोपाल
मध्यप्रदेश उच्च शिक्षा विभाग के अनुसूचित जाति-जनजाति के शिक्षकों का प्रतिनिधित्व करने वाले एकमात्र शिक्षक संघ: महाविद्यालयीन अनुसूचित जाति-जनजाति शिक्षक (प्राध्यापक) संघ का समस्त पदाधिकारियों सहित मध्य प्रदेश अनुसूचित जाति जनजाति अधिकारी एवं कर्मचारी संघ (अजाक्स) में विलय हो गया। कार्यक्रम में अजाक्स के प्रांतीय अध्यक्ष माननीय जेएन कंसोटिया एवं प्रांतीय महासचिव प्रशासन इंजी. एसएल सूर्यवंशी ने संघ के विस्तार को मान्यता प्रदान की। कार्यक्रम में उच्च शिक्षा विभाग प्रकोष्ठ का गठन कर डॉ. जगतसिंह मण्डलोई को उच्च शिक्षा विभाग प्रकोष्ठ प्रदेश अध्यक्ष एवं डॉ. संजय प्रसाद को उच्च शिक्षा विभाग प्रकोष्ठ को प्रदेश सचिव के रूप में नियुक्त किया गया।

नवनियुक्त प्रदेश प्रकोष्ठ अध्यक्ष डॉ. जगतसिंह मण्डलोई ने अजाक्स पदाधिकारियों का आभार व्यक्त करते हुए बताया कि जैसा की महाविद्यालयीन अनुसूचित जाति-जनजाति शिक्षक (प्राध्यापक) संघ विगत डेढ़ दशक से अनुसूचित जाति-जनजाति वर्ग के शिक्षकों और समाज के शोषित वर्ग की समस्याओं को उचित फोरम पर उठता आया है और जायज मांगों का निराकरण करने शासन-प्रशासन के समक्ष रखता आया है। इस मौके पर भोपाल संभाग से प्रो. डेनियल डैनी, डॉ. राजकुमार भीमटे, डॉ. महेंद्र मेहरा, डॉ व्हीएस चौधरी, डॉ भारती कुमार, डॉ संदीप महरोत्रा, डॉ प्रेरणा आजाद, डॉ चंद्र्रकांता अहिरवार, डॉ के एस नेगी। डॉ. अशोक कुमार बरैया, डॉ. वेद प्रकाश, डॉ. विक्रम दोहरे, डॉ. राजाराम आर्य, डॉ. हुकुम सिंह मंडलोई, डॉ गुलाब सिंह जटाव, डॉ शिव सिंह मौजूद थे।