ग्वालियर

जिले में चल रहे मदिरा दुकानों पर निरीक्षण व सघन चेकिंग के अंतर्गत विशेष निगरानी व सतर्कता अभियान के अंतर्गत विगत दिनों में वित्तीय वर्ष के प्रारंभ से ही आबकारी विभाग द्वारा कठोर कार्रवाई की जारही है। मनमर्जी चला रहे ठेकेदारों पर नकेल सकने आबकारी विभाग ने और सख्त रवैया अपना लिया है। इसके तहत मनमाने दामों में शराब बिक्री करने पर दो शराब दुकानों का लाइसेंस सस्पेंड कर दिया है।

सहायक आयुक्त आबकारी संदीप शर्मा ने बताया कि इस अभियान में कंपोजिट मदिरा दुकान बैरागढ़ व्रत डबरा तथा कंपोजिट दुकान भितरवार व्रत भितरवार के लायसेंसी ठेकेदारों द्वारा एमएसपी व एमआरपी के उल्लंघन होना पाया गया। जिस पर दोनों दुकानों के लाइसेंस एक एक दिन के लिए सस्पेंड कर दिया है। इस कार्रवाई से दोनो दुकानें एक एक दिन 16 जुलाई के लिए बंद रहेगी।
विभाग द्वारा दुकान बंद करने के लिए व्रत उपनिरीक्षकों को आदेशित किया जाकर एक दिन की  पूरी अवधि के लिए दो अरक्षको की ड्यूटी लगाई गई ताकि किसी प्रकार की अनियमितता न हो साथ ही प्रभारी द्वारा गश्त की जाएगी। जिले की दो अन्य दुकानों के द्वारा भी इस प्रकार के उलंघन की कार्यवाही प्रचलित है।

इसके साथ ही सहायक आयुक्त द्वारा व्रत प्रभारियों की ड्यूटी क्रॉस चेकिंग द्वारा लगाकर वस्तुस्थिति जानने का प्रयास भी किया ताकि व्रत प्रभारी सहायक जिला आबकारी अधिकारी तथा उपनिरीक्षकों की अकर्मण्यता व लापरवाही सामने आ सके।
इसी के तहत उपायुक्त एवम सहायक आयुक्त द्वारा मुखबिर तंत्र व स्वयं भ्रमण कर ठेकेदारों पर नकेल कसी जारही है ताकि ग्राहक को उचित मूल्य ,गुणवत्ता की मदिरा प्राप्त हो सके।