किडनी की पथरी लाइफस्टाइल और डाइट की वजह से होती है। पानी कम मात्रा में पीने से भी लोग इसके शिकार हो जाते हैं। स्टोन का दर्द जब बढ़ जाता है तो अस्पताल में भर्ती कराने की नौबत आ जाती है। कुछ लोग लकी होते हैं जिनका स्टोन मूत्र मार्ग से अपने आप बाहर निकल जाता है। कुछ इलाज की जरूरत पड़ती है। हालांकि कुछ घरेलू उपाय करके भी इसे दूर किया जा सकता है। पथरी होने की वजह से यूरिन में समस्या होने लगती है। एलोपैथ के साथ-साथ आयुर्वेद में भी इससे छुटकारा पाने के लिए कई उपाय बताए गए हैं। नींबू के जरिए भी आप पथरी की समस्या को दूर कर सकते हैं। आइए जानते हैं नींबू को कैसे इस्तेमाल करके इस बीमारी को दूर किया जा सकता है।

नींबू और तुलसी
नींबू में सिट्रिक एसिड होता है और तुलसी में एसिटिक एसीड। दोनों का रस जब मिलता है तो किडनी की स्टोन को तोड़ता है। इससे दर्द में राहत मिलती है। इसके साथ ही यूरिन के जरिए स्टोन बाहर निकल जाता है। इसके लिए सुबह यूरिन करने से पहले एक चम्मच नींबू का रस और एक चम्मच तुलसी का रस मिलाकर पीना चाहिए।

नींबू और एप्पल वेनेगर
किडनी स्टोन्स ज्यादातर कैल्शियम की होती हैं। नींबू में साइट्रेट  गुण होने की वजह से यह किडनी स्टोन्स को तोड़ने में मदद करता है। एप्पल वेनेगर में एसिड होता है जो पथरी को गलाने काम करता है। एक गिलास पानी में आधा चम्मच एप्पल वेनेगर और आधा चम्मच नींबू का रस मिलकर पीना चाहिए। इससे पथरी टूटता है और यूरिन के जरिए शरीर से बाहर निकल आता है।

नींबू और पुदीना
पुदीना का रस और नींबू भी पथरी को दूर करने के लिए रामबाण है। पुदीने के पत्ते से रस निकालकर एक गिलास पानी में मिला लें। इसके बाद इसमें एक चम्मच नींबू का रस डाले। फिर इसे पिएं। इससे स्टोन से होने वाला दर्द भी दूर होगा और इससे छुटकारा भी मिल जाएगा। लेकिन इन तीनों उपाय के दौरान धर्यै रखना होगा। क्योंकि ये धीरे-धीरे काम करता है।