वाराणसी
 
अंडरवर्ल्ड डॉन कहा जाने वाला सुभाष ठाकुर इन दिनों फतेहगढ़ जेल में बंद है। अरसे से बीएचयू अस्पताल में इलाज के नाम पर टिका हुआ है। अब मुंबई में सनसनीखेज हत्या में उसका नाम सामने आया है।

मुंबई के विरार थाने के भाइंदर वसई क्षेत्र में बीते 26 फरवरी को बिल्डर समरजीत उर्फ समय चौहान की हत्या में सुभाष ठाकुर को भी नामजद किया गया है। मुंबई की मीरा भाइंदर वसई विरार क्राइम ब्रान्च सनसनीखेज हत्या में सुभाष ठाकुर की संलप्तिता सामने आने के बाद रिमांड पर लेगी। बिल्डर की दिनदहाड़े हत्या के बाद सीसीटीवी फुटेज में सिंधोरा के बरांव गांव निवासी राहुल शर्मा, कपसेठी के लोहारडीह निवासी अभिषेक सिंह उर्फ अंकुर व लंका के नरोत्तमपुर के कुख्यात मनीष सिंह सोनू व एक और बदमाश की तस्वीर सामने आई थी। हत्या के बाद मनीष समेत चारों बदमाश मुंबई छोड़ वाराणसी आ गये थे।

इसकी भनक लगते ही वाराणसी एसटीएफ ने पहले लोहता में 21 मार्च को मुठभेड़ में दो लाख के इनामी मनीष सिंह सोनू को ढेर किया। एसटीएफ ने ही 29 मार्च को चितईपुर स्थित कॉलोनी से अभिषेक व राहुल को दबोच लिया। इनकी गिरफ्तारी के बाद मीरा भाइंदर वसई विरार क्राइम ब्रान्च की टीम दोनों को साथ ले गई। इनसे पूछताछ पर सामने आया कि हत्याकांड में सुभाष ठाकुर की सीधे तौर पर संलप्तिता है।