भोपाल
प्रदेश में नगरीय निकाय और पंचायत चुनाव के परिणाम घोषित होने के बाद अब जनपदों और जिला पंचायतों तथा नगर परिषदों व नगरपालिकाओं में अध्यक्ष, उपाध्यक्ष के निर्वाचन की प्रक्रिया शुरू हो गई है। इसके चलते भाजपा ने नगर व ग्राम सरकार में पार्टी के लोगों का प्रभुत्व बनाए रखने निर्दलीयों और कांग्रेसियों को भाजपा से जोड़ने का काम तेज कर दिया है। निकाय चुनाव परिणाम घोषित होने के बाद दो दर्जन से अधिक निर्दलीय पार्षद और जनपद व जिला पंचायत सदस्यों को भाजपा की सदस्यता दिलाई जा चुकी है।

वहीं कुछ पार्टी में शामिल हुए बगैर अध्यक्ष पद के निर्वाचन में भाजपा समर्थित उम्मीदवार को वोट देने के लिए सहमत हुए हैं। प्रदेश भाजपा अध्यक्ष वीडी शर्मा इसी के चलते इन दिनों प्रदेश कार्यालय और निवास में जिलों से आने वाले नव  निर्वाचित पार्षदों, जनपद पंचायत व जिला पंचायत सदस्यों से मुलाकात में जुटे हैं। जिलों के अध्यक्ष और मंडल अध्यक्ष ऐसे सदस्यों को साथ लाकर उन्हें अध्यक्ष से मुलाकात कराने कराने में जुटे हैं। इसके लिए भाजपा की टीम बी की सक्रियता के रिजल्ट दिखने लगे हैं। जनपदों में भाजपा समर्थित अध्यक्ष व उपाध्यक्ष के निर्वाचित सदस्यों की स्थिति रविवार को साफ हो जाएगी। जिला पंचायत अध्यक्ष के लिए 29 जुलाई को निर्वाचन होना है।

पिछले दिनों इन नेताओं से हुई मुलाकात
पिछले दिनों अध्यक्ष शर्मा की मुलाकात छतरपुर जिले के बारीगढ़ नगर परिषद के नव निर्वाचित पार्षदों से हुई। इस दौरान नगर परिषद के दो निर्दलीय पार्षदों ने भाजपा की सदस्यता ग्रहण की। साथ ही सीधी जिले के मझौली नगर परिषद और सिवनी जिले के बरघाट क्षेत्र की जनपद पंचायत के नव निर्वाचित सदस्यों ने भी मुलाकात की है। इसके साथ ही बुरहानपुर जिले के जनपद पंचायत खकनार के नवनिर्वाचित सदस्य से भी मिले। साथ ही पन्ना जिले की ककरहटी नगर परिषद से नवनिर्वाचित कांग्रेस पार्षद  लक्ष्मी चौधरी, निर्दलीय पार्षद वर्षा त्रिपाठी एवं महेंद्र सिंह यादव ने भाजपा की सदस्यता ग्रहण की। खंडवा जिले के नव निर्वाचित जिला पंचायत सदस्यों ने भी शर्मा से मुलाकात की है। यहां भाजपा को अध्यक्ष पद के लिए जीते सदस्य की तलाश थी। खजुराहो नगर परिषद के नवनिर्वाचित 9 भाजपा पार्षदों, बैरसिया के जनपद सदस्यों को भी शर्मा से मुलाकात के लिए बुलाया गया था।  खजुराहो नगर परिषद में नव निर्वाचित निर्दलीय पार्षदों और राजनगर नगर परिषद में निर्वाचित निर्दलीय पार्षद को भाजपा की सदस्यता दिलाई गई।