रांची

इंडिया वर्सेस इंग्लैंड 5 मैच की टेस्ट सीरीज का चौथा मुकाबला रांची में खेला जा रहा है। मैच के दूसरे दिन इंग्लैंड की पहली पारी 353 रनों पर सिमट गई है। मेहमानों के इस स्कोर के आगे भारत को पहला और बड़ा झटका कप्तान रोहित शर्मा के रूप में लगा है। इंग्लैंड के सबसे अनुभवी तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन ने हिटमैन को 2 के निजी स्कोर पर आउट कर पहली सफलता हासिल की है। अब यशसवी जयासवाल का साथ देने शुभमन गिल आए हैं।

बात इंग्लैंड की पारी की करें तो, जो रूट 122 रन बनाकर नाबाद रहे। भारत के लिए रविंद्र जडेजा ने सर्वाधिक 4 विकेट चटकाए, वहीं आकाशदीप को 3 सफलताएं मिली। इंग्लिश टीम ने दूसरे दिन की शुरुआत 7 विकेट के नुकसान पर 302 रनों से की थी। दूसरे दिन मेहमानों ने 51 रन जोड़े। भारत को आखिरी तीनों सफलताएं रविंद्र जडेजा ने दिलाई। जड्डू ने सबसे पहले रूट-रॉबिंसन की शतकीय साझेदारी को तोड़ा। रॉबिंसन 58 के निजी स्कोर पर आउट हुए। इसके बाद जडेजा ने शोएब बशीर और जेम्स एंडरसन का शिकार किया। पहले दिन लंच ब्रेक तक 122 पर 5 विकेट खोने के बाद 353 रनों तक पहुंचना इंग्लैंड के लिए बड़ी बात है।

एंडरसन ने किया रोहित शर्मा का शिकार

 पारी के तीसरे ही ओवर में जेम्स एंडरसन ने भारतीय कप्तान रोहित शर्मा को 2 के निजी स्कोर पर आउट कर भारत को बड़ा झटका दिया है। एंडरसन की गेंद हिटमैन के बल्ले का किनारा लेकर विकेट कीपर बेन फोक्स के दस्तानों में गई।

जडेजा ने दिलाई 8वीं सफलता

रविंद्र जडेजा ने 103वें ओवर में ओली रॉबिंसन को आउट कर भारत को 8वीं सफलता दिलाई। रॉबिंसन रिवर्स स्वीप खेलना चाहते थे, मगर वह इससे चूक गए, गेंद रॉबिंसन के ग्लब्स को छूते हुए विकेट कीपर ध्रुव जुरेल के दस्तानों में गई।

रोहित शर्मा ने दिखाई खेल भावना

पारी का 102वां ओवर लेकर आए कुलदीप यादव ने चौथी गेंद पर जो रूट को अपने जाल में फंसा ही लिया था। गेंद रूट के बल्ले का किनारा लेकर स्लिप में रोहित शर्मा के हाथों में गई। भारतीय खिलाड़ी जश्न मनाने लगे थे, मगर रोहित शर्मा कैच को लेकर कॉन्फिडेंट नहीं थे। ऐसे में उन्होंने अंपायरों को थर्ड अंपायर से इससे चैक करने को कहा। रिप्ले में थर्ड अंपायर ने पाया कि गेंद रोहित के हाथों में पहुंचने से पहले जमीन से टकरा गई थी। ऐसे में जो रूट को 119 के निजी स्कोर पर जीवनदान मिला।