नई दिल्ली
आर्थिक संकट से जूझ रहे श्रीलंका में हालात बेकाबू हो गए हैं। शनिवार को हजारों की संख्या में प्रदर्शनकारी राजधानी कोलंबो पहुंचे और यहां जमकर उत्पात किया। प्रदर्शनकारियों ने राष्ट्रपति गोटाबाया राजपक्षे के सरकारी निवास पर कब्जा कर लिया। यही नहीं, कोलंबो की सड़कों पर जमकर आगजनी की गई। प्रधानमंत्री का सरकारी निवास फूंक दिया गया। इस बीच भारत के विदेश मंत्री एस. जयशंकर ने कहा है कि भारत हमेशा श्रीलंका के साथ खड़ा है। हम पड़ोसी देश की हर संभव मदद करेंगे।

राष्ट्रपति भवन के बाहर भीड़ पर फायरिंग का वीडियो वायरल
राष्ट्रपति भवन के बाहर प्रदर्शनकारियों पर फायरिंग का वीडियो सामने आया है। खौफनाक वीडियो में साफ देखा जा सकता है कि एक दीवार के दूसरी तरफ प्रदर्शनकारी हैं और सेना के जवान फायरिंग कर रहे हैं।

13 जुलाई को इस्तीफा देंगे राष्ट्रपति, 30 दिन में चुनाव
प्रधानमंत्री के बाद अब राष्ट्रपति गोटाबाया राजपक्षे भी इस्तीफा देने जा रहे हैं। गोटाबाया राजपक्षे 13 जुलाई को अपना पद छोड़ देंगे। शनिवार की प्रदर्शन के बाद से गोटाबाया राजपक्षे लापता हैं। वहीं प्रदर्शन में पूर्व क्रिकेटर सनथ जयसूर्य भी शामिल हुए। हिंसा और आगजनी की घटनाओं पर प्रतिक्रिया देते हुए जयसूर्या ने ट्वीट किया कि हम राजनीतिक रूप से प्रधानमंत्री के खिलाफ हो सकते हैं, लेकिन उनका घर जलाना सही नहीं है। कुछ असामाजिक तत्व देश का माहौल खराब करने की कोशिश कर रहे हैं। लोग शांति बनाए रखें।