नई दिल्ली

भारत ने कोरोना वायरस के खिलाफ जंग में एक नया मुकाम हासिल कर लिया है। भारत ने शनिवार को 200 करोड़ कोविड टीकाकरण का लक्ष्य हासिल कर लिया है। भारत ने यह मुकाम 18 महीने में हासिल किया है। भारत में कोविड टीकाकरण की शुरुआत प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की ओर से 16 जनवरी 2021 को की गई थी। भारत जैसे देश में जहां दुनिया की लगभग 17.5 फीसदी जनता निवास करती हो, टीके को आम जनता तक पहुंचाना आसान नहीं था। यह एक लंबा सफर रहा जो धीरे-धीरे 200 करोड़ के लक्ष्य तक पहुंच गया।

महामारी के शुरुआती लक्षण की पहचान 31 दिसंबर 2019 में चीन के वुहान में हुई थी। इसके बाद 30 जनवरी 2020 को विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कोरोना वायरस के प्रकोप को एक सार्वजनिक स्वास्थ्य के लिए आपात स्थिति की घोषणा की थी।

11 मार्च 2020 को डब्ल्यूएचओ ने कोरोना वायरस के प्रकोप को एक महामारी घोषित किया। भारत में कोरोना वायरस के पहला मामले की 30 जनवरी 2020 को पुष्टि हुई थी। केरल के त्रिशूर में देश के पहले कोरोना रोगी की पहचान हुई थी।

कब और कैसे आगे बढ़ी कोरोना के खिलाफ लड़ाई

महामारी के शुरुआती लक्षण की पहचान 31 दिसंबर 2019 में चीन के वुहान में हुई थी। इसके बाद 30 जनवरी 2020 को विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कोरोना वायरस के प्रकोप को एक सार्वजनिक स्वास्थ्य के लिए आपात स्थिति की घोषणा की थी। 11 मार्च 2020 को डब्ल्यूएचओ ने कोरोना वायरस के प्रकोप को एक महामारी घोषित किया। 30 जनवरी 2020 को भारत में कोरोना वायरस के पहले मामले पुष्टि हुई थी। केरल के त्रिशूर में देश के पहले कोरोना वायरस से संक्रमित रोगी की पहचान हुई।